coronaeducationMp news

कोरोना की तीसरी लहर डॉक्टरों पर भी बरपा रही कहर Digital Education Portal

भोपाल में पिछले तीन दिन के भीतर 30 से ज्यादा डाक्टर संक्रमित मिल चुके हैं। दूसरे जिलों में भी डाक्टर, पैरामेडिकल कर्मचारियों में संक्रमण बढ़ा


भोपाल पूरी सावधानी रखने के बाद भी बड़ी संख्या में डाक्टर कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। आलम यह है कि भोपाल में पिछले तीन दिन के भीतर 30 से ज्यादा डाक्टर संक्रमित मिल चुके हैं। गांधी मेडिकल कालेज और इससे संबद्ध हमीदिया और सुल्तानिया अस्पताल के नौ डाक्टर और एमबीबीएस के पांच छात्र शामिल हैं। इसके अलावा एम्स के भी छात्र और डाक्टर पाजिटिव आए हैेंं। विशेषज्ञों का कहना है कि डाक्टर मरीज के सीधे संपर्क में रहते हैं। कोरोना वायरस इन दिनों बहुत ज्यादा संक्रामक हो गया है। इस कारण डाक्टर ज्यादा चपेट में आ रहे हैं। भोपाल के अलावा प्रदेश के दूसरे जिलों में भी डाक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ मिल रहे हैं।

शहडोल में दो, रीवा में एक डाक्टर संक्रमित

शहडोल और रीवा में भी डाक्टर कोरोना संक्रमित होने लगे हैं। शहडोल में दो और रीवा में एक डाक्टर संक्रमित पाया गया है। दो जनवरी को डा. आरके गुप्ता अपने परिवार के साथ गोवा से लौटे थे। तीन जनवरी को उनकी जांच हुई, जिसमें वह व उनकी पत्नी कोरोना पाजिटिव पाई गईं। शहडोल मेडिकल कालेज के तीन जूनियर डाक्टर पाजिटिव हैं। जिनकी रिपोर्ट शनिवार को ही आई है। इनकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है।

उज्जैन : सिविल सर्जन पीएन वर्मा और महिला चिकित्सक सुनीता परमार संक्रमित पाए गए थे।

खंडवा: जिला अस्पताल और मेडिकल कालेज के एक-एक चिकित्सक में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीं मेडिकल कालेज के पांच जूनियर डाक्टर भी पाजिटिव आ चुके हैं

ग्वालियर: जिले में 10 डाक्टर हफ्ते भर के भीतर संक्रमित हो चुके हैं। दतिया में भी एक डाक्टर व एक मेडिकल छात्र की रिपोर्ट पाजिटिव आई थी।

Join whatsapp for latest update

शिवपुरी: मेडिकल कालेज में एक डाक्टर संक्रमित हैं।

रतलाम: मेडिकल कालेज के सात विद्यार्थी संक्रमित पाए गए हैं।

Join telegram

वर्जन

-स्वास्थ्यकर्मी मरीजों के सीधे संपर्क में आते हैं। दूसरी बात यह कि वायरस इस समय बहुत ज्यादा संक्रामक है। इस कारण बड़ी संख्या में डाक्टर चपेट में आ रहे हैं।

डा. सरमन सिंह,पूर्व निदेशक एम्स व वायरोलाजिस्ट

– दूसरी लहर में इतने डाक्टर संक्रमित नहीं हो रहे थे। पिछले चार दिन से कोरोना की चपेट में डाक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ ज्यादा आ रहे हैंं। इसकी बड़ी वजह यही है कि वायरस की संक्रामकता बहुत ज्यादा है।

डा. लोकेन्द्र दवे, छाती व श्वास रोग विशेषज्ञ

  • #Coronavirus Case in Bhopal
  • #Covid Cases in Bhopal
  • #Coronavirus Patients in Bhopal
  • #Covid Patients in Bhopal
  • #Coronavirus Third Wave in Bhopal
  • #Coronavirus in Bhopal
  • #Bhopal News in Hindi
  • #Bhopal Latest News
  • #Bhopal Samachar
  • #MP News in Hindi
  • #Madhya Pradesh News
  • #भोपाल समाचार
  • #मध्य प्रदेश समाचार

हमारे द्वारा प्रकाशित समस्त प्रकार के रोजगार एवं अन्य खबरें संबंधित विभाग की वेबसाइट से प्राप्त की जाती है। कृपया किसी प्रकार के रोजगार या खबर की सत्यता की जांच के लिए संबंधित विभाग की वेबसाइट विजिट करें | अपना मोबाइल नंबर या अन्य कोई व्यक्तिगत जानकारी किसी को भी शेयर न करे ! किसी भी रोजगार के लिए व्यक्तिगत जानकारी नहीं मांगी जाती हैं ! डिजिटल एजुकेशन पोर्टल किसी भी खबर या रोजगार के लिए जवाबदेह नहीं होगा .

Team Digital Education Portal

शैक्षणिक समाचारों एवं सरकारी नौकरी की ताजा अपडेट प्राप्त करने के लिए फॉलो करें

Follow Us on Telegram
@digitaleducationportal
@govtnaukary

Follow Us on Facebook
@digitaleducationportal @10th12thPassGovenmentJobIndia

Follow Us on Whatsapp
@DigiEduPortal
@govtjobalert

Show More

Leave a Reply

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please Close Adblocker to show content