education

Delhi: जिस स्कूल से की थी पढ़ाई, अब टोक्यो ओलम्पिक (Tokyo Olympic) में सिल्वर मेडल जीतने वाले रवि दहिया के नाम से जाना जाएगा – केजरीवाल

नई दिल्ली: दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने टोक्यो ओलम्पिक (Tokyo Olympic) में सिल्वर मेडल जीतने वाले रवि दहिया (Ravi Dahiya) को सम्मानित करते हुए दिल्ली के आदर्श नगर स्थित राजकीय बाल विद्यालय का नाम बदल कर रवि दहिया बाल विद्यालय (Ravi Dahiya Bal Vidyalaya) कर दिया है. खास बात है कि रवि दहिया ने अपनी स्कूली पढ़ाई दिल्ली सरकार के इसी स्कूल से पूरी की थी.

देश के यूथ आइकॉन हैं दहिया’

दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि, ‘दिल्ली के सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले रवि दहिया आज अपनी मेहनत और लगन से देश के यूथ आइकॉन बन चुके हैं.’ वहीं रवि दहिया का कहना है कि, ‘ओलम्पिक मेडल लाने में दिल्ली सरकार का बड़ा सहयोग रहा है. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार उनकी मदद तब से कर रही है जब वे ओलंपिक के लिए चयनित भी नहीं हुए थे. कोरोना के समय जब सब जगह लॉकडाउन था, तब भी दिल्ली सरकार ने मेरी ट्रेनिंग नहीं रुकने दी.’ दरअसल, दिल्ली सरकार ने मिशन एक्सीलेंस के तहत रवि दहिया को उनके ट्रेनिंग के दौरान ट्रेनिंग, कोच और अन्य स्पोर्ट्स इक्विपमेंट्स के लिए सहायता दी थी.

स्कूल में लगेगी दहिया की तस्वीर

आदर्श नगर के इस स्कूल में रवि दहिया का एक बड़ा पोट्रेट (Portrait) भी लगाया जाएगा ताकि उसे देखकर बच्चे प्रेरित हो, उनके तरह बड़े सपने देखे और खेल के क्षेत्र में बेहतर कर सकें. मनीष सिसोदिया ने कहा कि, ‘दिल्ली सरकार राजधानी में खेल को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है. सरकार स्पोर्ट्स के लिए अलग स्कूल ऑफ स्पेशलाइज्ड एक्सीलेंस और स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी शुरू करने जा रही है. इसका मकसद शुरुआती दौर से ही खिलाड़ियों की प्रतिभा को पहचानते हुए उन्हें वर्ल्ड क्लास ट्रेनिंग देकर ओलम्पिक के लिए तैयार करना होगा. इस स्कूल और यूनिवर्सिटी में अगले साल से एडमिशन शुरू हो जाएगा.

दिल्ली सरकार का मिशन एक्सीलेंस?

दिल्ली सरकार ने खेलों में बेहतर प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों की मदद के लिए 3 स्तर पर स्कीम शुरू की है. पहले स्तर पर 14 साल तक के खिलाडियों को 2 लाख, दूसरे स्तर पर 17 साल तक के खिलाडियों को 3 लाख और तीसरे स्तर पर 17 साल से बड़े खिलाडियों को उनके प्रशिक्षण के दौरान 16 लाख रुपये तक की सहायता राशि दी जाती है. जिससे खिलाड़ियों को बेहतरीन ट्रेनिंग मिल सके. मिशन एक्सीलेंस का लक्ष्य खिलाड़ियों के ट्रेनिंग के दौरान उनकी मदद कर उन्हें मेडल जीतने लायक बनाना है.

हमारे द्वारा प्रकाशित समस्त प्रकार के रोजगार एवं अन्य खबरें संबंधित विभाग की वेबसाइट से प्राप्त की जाती है। कृपया किसी प्रकार के रोजगार या खबर की सत्यता की जांच के लिए संबंधित विभाग की वेबसाइट विजिट करें | अपना मोबाइल नंबर या अन्य कोई व्यक्तिगत जानकारी किसी को भी शेयर न करे ! किसी भी रोजगार के लिए व्यक्तिगत जानकारी नहीं मांगी जाती हैं ! डिजिटल एजुकेशन पोर्टल किसी भी खबर या रोजगार के लिए जवाबदेह नहीं होगा .

Team Digital Education Portal

शैक्षणिक समाचारों एवं सरकारी नौकरी की ताजा अपडेट प्राप्त करने के लिए फॉलो करें

Follow Us on Telegram
@digitaleducationportal
@govtnaukary

Join whatsapp for latest update

Telegram Govt Job

Follow Us on Facebook
@digitaleducationportal @10th12thPassGovenmentJobIndia

Follow Us on Whatsapp
@DigiEduPortal
@govtjobalert

Show More

Leave a Reply

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please Close Adblocker to show content