education

मध्य प्रदेश राज्य शिक्षा केंद्र : कक्षा 1 से 4 एवं कक्षा 6, 7 की वार्षिक परीक्षा मूल्यांकन के विस्तृत दिशानिर्देश जारी, ऐसे दिए जाएंगे कक्षा 1 से 4 एवं 6 ,7 में वार्षिक मूल्यांकन के नंबर तथा अधिकार

मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक वार्षिक परीक्षाओं का आयोजन 1 अप्रैल 2022 से किया जा रहा है। आपको बता दें कि इस बार कक्षा पांचवी एवं कक्षा आठवीं की वार्षिक परीक्षा बोर्ड पैटर्न के आधार पर आयोजित की जा रही है वहीं कक्षा 1 से 4 एवं कक्षा छटी कक्षा सातवीं के वार्षिक मूल्यांकन के संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा हाल ही में जारी किए गए हैं।

कोविड लॉक डाउन के कारण लंबे समय तक विद्यार्थियों को लर्निंग लॉस के दृष्टिगत सभी शासकीय प्राथमिक व माध्यमिक विद्यालयों की कक्षा 1 से 8 में पाठ्यक्रम को पुनर्नियोजित करते हुए 60 प्रतिशत पाठ्यक्रम फेस-टू-फेस मोड में पढ़ाने तथा 40 प्रतिशत पाठ्यक्रम होम असाइनमेंट / प्रोजेक्ट वर्क के रूप में कराने हेतु निर्देश दिए गए हैं। अकादमिक सत्र 2021-22 हेतु वार्षिक मूल्यांकन (कक्षा 5 व 8 को छोड़कर) संबंधी विस्तृत निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इन दिशानिर्देशों के अनुरूप ही अब कक्षा एक से चार एवं कक्षा 6 से 7 के वार्षिक मूल्यांकन संपन्न कराए जाएंगे।

Pexels photo 5896577
मध्य प्रदेश राज्य शिक्षा केंद्र : कक्षा 1 से 4 एवं कक्षा 6, 7 की वार्षिक परीक्षा मूल्यांकन के विस्तृत दिशानिर्देश जारी, ऐसे दिए जाएंगे कक्षा 1 से 4 एवं 6 ,7 में वार्षिक मूल्यांकन के नंबर तथा अधिकार 9

वार्षिक मूल्यांकन आयोजन की तिथि व अवधि

मध्य प्रदेश राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा जारी की गई संशोधित समय-सारिणी ( Time Table) अनुसार प्रदेश की समस्त शासकीय प्राथमिक व माध्यमिक शालाओं में कक्षा 3 4 व 6, 7 में अध्ययनरत सभी बच्चों का वार्षिक मूल्यांकन 16 अप्रैल से 23 अप्रैल 2022 की अवधि में किया जाएगा।

कक्षा 1 व 2 में मूल्यांकन का स्वरूप

कक्षा 1 व 2 में अध्ययन अध्यापन की सतत प्रक्रिया के साथ ही मूल्यांकन भी किया जाएगा। कक्षा-1 व 2 के बच्चों का मूल्यांकन शालाओं को उपलब्ध कराई गई अभ्यास पुस्तिका में संलग्न आकलन / मूल्यांकन वर्कशीट (विषय-हिन्दी, अंग्रेजी, गणित) के आधार पर किया जाएगा।

मराठी व उर्दू विषयों के लिए कक्षा 1 व 2 की एकीकृत वर्कशीट

कक्षा-1 व 2 हेतु मराठी विशिष्ट व उर्दू विशिष्ट विषय की आकलन वर्कशीट राज्य स्तर से जिलों को उपलब्ध कराई जाएगी। मराठी व उर्दू विषयों के लिए कक्षा 1 व 2 की एकीकृत वर्कशीट होगी अर्थात् कक्षावार पृथक-पृथक नहीं होगी मूल्यांकन “अभ्यास पुस्तिका” संलग्न आकलन वर्कशीट्स में प्रत्येक विषय का पूर्णांक 100-100 अंक का होगा।

अभ्यास पुस्तिका (वर्कबुक) कक्षा-1 व 2 में दी गई अभ्यास वर्कशीट व मूल्यांकन वर्कशीट पर कार्य की प्रक्रिया

वर्कबुक में दी गई वर्कशीट्स पर कार्य

सर्वप्रथम वर्कबुक में दी गई विषय-हिन्दी, गणित, अंग्रेजी की अभ्यास वर्कशीट्स पर कार्य कराया जाए। वर्कशीट्स पर कार्य करने हेतु क्रम वही रहेगा, जो क्रम वर्कबुक में है।

इसके बाद 14 मार्च 2022 से 25 मार्च 2022 की अवधि में शाला में ही मूल्यांकन वर्कशीट्स पर कार्य कराया जाए। शाला को स्वतंत्रता रहेगी कि कक्षा 1 व 2 के विषयवार मूल्यांकन हेतु विद्यालय स्तर पर टाईम-टेबल तैयार करें तथा इसके आधार पर विद्यार्थियों से मूल्यांकन वर्कशीट पर शाला में कार्य करवाए।

Join whatsapp for latest update
1 से 4 एवं 6, 7 मूल्यांकन प्रक्रिया डिजिटल एजुकेशन पोर6273356501578602340
मध्य प्रदेश राज्य शिक्षा केंद्र : कक्षा 1 से 4 एवं कक्षा 6, 7 की वार्षिक परीक्षा मूल्यांकन के विस्तृत दिशानिर्देश जारी, ऐसे दिए जाएंगे कक्षा 1 से 4 एवं 6 ,7 में वार्षिक मूल्यांकन के नंबर तथा अधिकार 10

प्रतिभा पर्व में उपयोग की गई वर्कशीट्स को छोड़कर (विषयवार) शेष मूल्यांकन वर्कशीट्स को 100 अंक के अधिभार में विभाजित कर बच्चों से कार्य कराया जाए।

मूल्यांकन वर्कशीट की जांच करना-

विषयवार समस्त वर्कशीट पर कार्य पूर्ण होने के बाद पूर्ण वर्कबुक को बच्चे से शाला में जमा करा लिया जाएगा। उसके बाद वर्कशीट की जांच 13 अप्रैल के पूर्व अनिवार्यतः कर ली जाए। पूर्णांक में से विषयवार प्राप्तांक मूल्यांकन अभिलेख में अंकित किए जाए व बच्चों का परीक्षा परिणाम तैयार किया जाए।

Join telegram

वर्कशीट पर कार्य पूर्ण करने के उपरात इन्हें शाला में अभिलेख के रूप में रखा जाए, किसी भी दशा में वर्कबुक में से वर्कशीट को फाड़कर अलग न किया जाए।

कक्षा 3, 4 व 6, 7 में मूल्यांकन वर्कशीट का स्वरूप

  • कक्षा 3, 4 व 6, 7 में प्रत्येक विषय हेतु पूर्णांक 100 निर्धारित रहेगा।
  • वर्कशीट में 60 प्रतिशत लिखित एवं 40 प्रतिशत प्रोजेक्ट कार्य हेतु अधिभार निर्धारित रहेगा।
  • वर्कशीट के दो भाग हैं खण्ड ‘अ’ व खण्ड ब ।
  • विषय के कौशल आधारित प्रश्न खण्ड-‘अ’ में एवं प्रोजेक्ट वर्क के प्रश्न खण्ड-ब शामिल रहेंगे। प्रत्येक कक्षा के सभी विषयों के प्रोजेक्ट कार्य एक ही बुकलेट में होंगे।
  • खण्ड–अ में 24 प्रश्न लिखित कार्य हेतु होंगे एवं खण्ड-ब में 2 प्रश्न प्रोजेक्ट कार्य हेतू होंगे।
  • इस प्रकार दोनों खण्ड मिलाकर कुल 26 प्रश्न रहेंगे। खण्ड ‘अ’ अन्तर्गत पूछे गए प्रश्नों के उत्तर निर्धारित समय-सारणी (Time Table) अनुसार बच्चे द्वारा शाला में लिखे जाएंगे।
  • खण्ड ब अंतर्गत प्रोजेक्ट वर्क से संबंधित प्रश्न बच्चे घर पर रहकर हल करेंगे व निर्धारित समय-सीमा में शाला में जमा करेंगे।
  • वर्कशीट में ही प्रश्नों के उत्तर व प्रोजेक्ट वर्क लिखने हेतु स्थान दिया रहेगा अर्थात् वर्कशीट का स्वरूप प्रश्नपत्र सह उत्तरपुस्तिका के रूप में होगा।
  • प्रोजेक्ट वर्क अंतर्गत इस प्रकार के प्रश्न रखे गए हैं, जिसमें बच्चे जानकारी / अवलोकन के आधार पर पता लगाएंगे, विश्लेषण करेंगे निष्कर्ष निकालेंगे और अपनी टिप्पणी लिखेंगे
  • प्रोजेक्ट वर्क से आशय यह नहीं कि बच्चे से कोई मॉडल बनवाया जाए। ये प्रोजेक्ट ऐसे होंगे, जो कि पूर्णतः घर में उपलब्ध रोजमर्रा की सामग्री के आधार पर या घर के सदस्यों से जानकारी एकत्र कर पूर्ण किए जा सकेंगे।

वार्षिक मूल्यांकन ब्लूप्रिंट

Img 20220324 0742544496488043385634189
मध्य प्रदेश राज्य शिक्षा केंद्र : कक्षा 1 से 4 एवं कक्षा 6, 7 की वार्षिक परीक्षा मूल्यांकन के विस्तृत दिशानिर्देश जारी, ऐसे दिए जाएंगे कक्षा 1 से 4 एवं 6 ,7 में वार्षिक मूल्यांकन के नंबर तथा अधिकार 11

नोट- खण्ड ‘अ’ में सभी विषयों की वर्कशीट पृथक-पृथक होगी तथा खण्ड ‘ब’ में सभी विषयों के प्रोजेक्ट वर्क आधारित प्रश्नों की एकीकृत बुकलेट होगी जो बच्चे को घर से पूर्ण हल करके लाने दी जाएगी।

वर्कशीट अंतर्गत कौशल व कठिनाई स्तर हेतु अधिभार

Knowledge/Remembering 10%

Easy-30%

Understanding 50%

Average-50%

Applying 30% High Order Thinking Questions-10%

Difficult-20%

पाठ्यक्रम सीमा

वार्षिक मूल्यांकन हेतु एटग्रेड पाठ्यक्रम (अध्ययनरत कक्षा का पुनर्नियोजित पाठ्यक्रम) को आधार बनाया जाएगा।

समय विभाग चक्र में दिये गए विषयों के अतिरिक्त यदि संस्था स्तर पर अन्य विषय का अध्यापन कार्य करवाया जा रहा है तो उसके प्रश्नपत्र की व्यवस्था शालास्तर पर की जाएगी।

वर्कशीट व अन्य मूल्यांकन सामग्री का मुद्रण-

शासकीय शालाओं हेतु वर्कशीट (प्रश्नपत्र) का मुद्रण- वितरण शालावार विषयवार वास्तविक दर्ज संख्या के मान से जिला परियोजना समन्वयक द्वारा भण्डार क्रय नियमों का पालन करते हुए समय सीमा में कराया जाए।

वार्षिक मूल्यांकन हेतु वर्कशीट की विभिन्न स्तर पर उपलब्धता

राज्य स्तर से जिले को मुद्रण हेतु वर्कशीट सॉफ्टकापी की उपलब्धता

वार्षिक मूल्यांकन हेतु प्रयोग में लाई जाने वाली वर्कशीट की साफ्टकॉपी (पीडीएफ फाइल में) मार्च प्रथम सप्ताह तक उपलब्ध कराई जाएगी। वर्कशीट मुद्रण हेतु चर्कशीट की सॉफ्टकॉपी राज्य स्तर से जिलों को डीपीसी कार्यालय के प्रोग्रामर के ईमेल पर उपलब्ध कराई जाएगी।

जिले स्तर से मुद्रित वर्कशीट व अन्य मूल्यांकन सामग्री का शालाओं को वितरण

जिले स्तर से शालाओं को वास्तविक दर्ज संख्या के मान से मुद्रित वर्कशीट के कक्षावार विषयवार पैकेट एवं अन्य मूल्यांकन सामग्री बीआरसी, जनशिक्षक के माध्यम से शालाओं को वार्षिक मूल्यांकन के पूर्व समय-सीमा में उपलब्ध कराई जाए। शालाओं तक समस्त सामग्री सुरक्षित रूप से गोपनीयता के साथ समय सीमा में पहुंचाने का दायित्व जिला परियोजना समन्वयक व बी.आर.सी. का रहेगा।

प्रोजेक्ट बुकलेट बच्चों को वितरण व बच्चों द्वारा हल की गई बुकलेट शाला में जमा कराना

दिनांक 28 मार्च 2022 को प्रोजेक्ट कार्य हेतु सभी विषयों की प्रोजेक्ट बुकलेट बच्चों को शाला में प्रदाय की जाए व विषय शिक्षक द्वारा बच्चों को प्रोजेक्ट बुकलेट हल / पूर्ण करने संबंधी आवश्यक निर्देश प्रदान किए जाए। बच्चों द्वारा हल की गई प्रोजेक्ट वर्कबुक शाला दिनांक 11 अप्रैल 2022 तक जमा कराई जाए। शिक्षकों द्वारा जांचकार्य 16 अप्रैल 2022 तक पूर्ण कर लिया जाए ।

वर्कशीट की जांच व मूल्यांकन अभिलेख भरना

शाला में अतिरिक्त रूप से प्रदान की गई वर्कशीट्स तथा बुकलेट (पिन निकालकर विषयवार बुकलेट्स को अलग-अलग करके) शाला प्रधानाध्यापक द्वारा संबंधित विषय शिक्षकों को उनके विषय की वर्कशीट उपलब्ध कराई जाए। शिक्षकों द्वारा वर्कशीट के आधार पर आदर्श उत्तर तैयार किया जाए। शिक्षकों द्वारा आदर्श उत्तर के रूप में हल की गई बुकलेट / वर्कशीट को शाला प्रधानाध्यापक द्वारा एक गार्ड फाईल में मूल्यांकन अभिलेख के रूप में शाला में ही सुरक्षित रखा जाए। मॉनीटरिंग के समय चाहे जाने पर उसका अवलोकन कराया जाए।

प्रत्येक कक्षा व विषय की वर्कशीट (खण्ड-अ) की जांच प्रतिदिन लिखित मूल्यांकन के उपरांत शिक्षकों द्वारा की जाएगी ताकि परीक्षा परिणाम कार्य में विलंब न हो। बच्चे द्वारा खण्ड ‘अ’ एवं खण्ड ब दोनों में पृथक-पृथक् 33 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य होगा। शिक्षक द्वारा खण्ड ‘अ’ एवं खण्ड ब के प्राप्तांकों का योग वर्कशीट के कवर पृष्ठ पर निर्धारित स्थान पर अंकित किया जाएगा। दोनों खण्डों के प्राप्ताकों के योग के आधार पर ग्रेड अंकित किए जाएं तदुपरांत अन्य अभिलेखों में बच्चे के अंक / ग्रेड अंकित किए जाएं।

परीक्षाफल का निर्धारण, कक्षोन्नति व प्रगति पत्रक में ग्रेड भरना-

प्रगति पत्रक केवल निम्नांकित प्रविष्टियां की जाए-

जिन माह में शालाए संचालित हुई है उन माहों में विद्यार्थियों के सह-शैक्षिक क्षेत्रों व व्यक्तिगत सामाजिक गुणों के आधार पर ग्रेड / क्वालिटेटिव टीप अंकित की जाए किन्तु इन्हें वार्षिक परिणाम तैयार करने में अधिभार नहीं दिया जाए।

अर्द्धवार्षिक मूल्यांकन

(पूर्णांक 50 अंक) के प्राप्तांकों के आधार पर ग्रेड अंकित किया जाए।

वार्षिक मूल्यांकन

(पूर्णांक 100) के प्राप्तांकों के आधार पर ग्रेड अंकित किया जाए।

वार्षिक परिणाम ग्रेड

प्रति विषय 150 अंक के मान से समस्त विषयों के प्राप्तांकों के महायोग से प्राप्त कुल प्राप्तांकों के आधार पर वार्षिक परिणाम की ग्रेड अंकित किया जाए। शेष प्रविष्टियां रिक्त रखी जाए।

प्रगति पत्रक में ग्रेड अंकित किए जाकर 28 से 30 अप्रैल, 2022 तक परिणाम की घोषणा कर समस्त बच्चों को प्रगति पत्रक का अनिवार्यतः वितरण किया जाए।

विशेष शिक्षण

वार्षिक परिणाम में ई-ग्रेड प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को कक्षोन्नति देकर कठिनाइयों का निदान करके विशेष शिक्षण किया जाए। शैक्षणिक स्तर में सुधार हेतु विशेष कक्षाएं लगाई जाएं। इसके लिए सुविधानुसार एक कालखण्ड प्रतिदिन रखा जाए।

वार्षिक मूल्यांकन परिणामों की डाटा एण्ट्री कराना- गतवर्षानुसार ।

कोविंड संक्रमण सुरक्षा मापदण्डों का पालन-

उक्त मूल्यांकन प्रक्रियाओं को करते समय कोविड-19 संक्रमण से बचाव के नियत सुरक्षा मापदण्डों का पालन सुनिश्चित किया जाए। उपरोक्तानुसार बच्चों की तैयारियां कराई जाएं। जिला परियोजना समन्वयक वार्षिक मूल्यांकन के बारे में समस्त शासकीय प्राथमिक व माध्यमिक शालाओं को अवगत कराना सुनिश्चित करें।

Show More

Leave a Reply

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please Close Adblocker to show content