Govt Scheme

Uttar Pradesh Mission Rojgar Yojana उत्तरप्रदेश मिशन रोजगार योजना 2021 up mission rojgar Yojana – Digital Education Portal

यूपी मिशन रोजगार अभियान को उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार ने दिसंबर 2020 को शुरू किया है जिसके तहत राज्य के 50 लाख बेरोजगार युवाओं को रोजगार प्रदान किया जाएगा. इस अभियान के बारे में अगर आपको जानकारी नहीं है तो हमारे आज के इस पोस्ट को पूरा पढ़ें. क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको इस अभियान के बारे में सारी जानकारी देने वाले हैं जो कि आपके लिए काफी अधिक लाभदायक रहेगी.

Up mission rojgar yojana in hindi
Uttar Pradesh Mission Rojgar Yojana उत्तरप्रदेश मिशन रोजगार योजना 2021 Up Mission Rojgar Yojana - Digital Education Portal 7

मिशन शक्ति योजना : अपराधियों की फोटो को चैराहे पर लगाया जायेगा, महिलाओं की सुरक्षा के लिए सरकार ने शुरू किया विशेष अभियान.

यूपी मिशन रोजगार 2021 के कुछ महत्वपूर्ण बिंदु

योजना का नाम यूपी मिशन रोजगार
कब शुरू की गई दिसंबर 2020
कहां शुरू हुई उत्तर प्रदेश
किसने शुरू की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
उद्देश्य राज्य के युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार प्रदान करना
अधिकारिक पोर्टल NA
हेल्पलाइन नंबर NA

यूपी मिशन रोजगार अभियान क्या है

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नेतृत्व में यूपी मिशन रोजगार अभियान को लागू किया जा रहा है. यहां जानकारी के लिए बता दें कि कोरोनावायरस के कारण देश भर में आर्थिक मंदी उत्पन्न हो गई है जिसको समाप्त करने के लिए यूपी में मिशन रोजगार अभियान को शुरू किया जा रहा है. यहां जानकारी के लिए बता दें कि यूपी की राज्य सरकार ने इस योजना के तहत राज्य के लगभग 50 लाख युवाओं को रोजगार की सुविधा अगले 4.5 महीने में देने का लक्ष्य रखा है. इस मिशन रोजगार योजना को कामयाब करने के लिए एक विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आयोजित किया जाएगा ताकि अधिक से अधिक बेरोजगार लोगों को रोजगार मिल सके.

किसान उदय योजना उत्तरप्रदेश : सरकार फ्री में दे रही है सोलर पंप सेट, इस तरह आवेदन करें.

यूपी मिशन रोजगार अभियान में रोजगार के अवसर

यहां जानकारी के लिए बता दें कि यूपी में शुरू किए जाने वाले मिशन रोजगार अभियान के माध्यम से राज्य के सभी बेरोजगार युवाओं के साथ-साथ उन लोगों को भी रोजगार की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी जिन्होंने पिछले कुछ महीनों में अपनी नौकरी खो दी है. साथ ही यह भी जानकारी दे दें कि सभी बेरोजगार युवाओं को विभिन्न सरकारी विभागों, परिषदों और निगमों में नौकरी के लिए आवेदन और रजिस्ट्रेशन फार्म भरने की सुविधा दी जाएगी. बता दें कि इस मिशन रोजगार का सफलतापूर्वक सृजन करने के लिए यूपी सरकार प्राइवेट विभागों के साथ भी सहयोग करेगी.

बेरोजगार युवाओं का ऑफिशियल डाटा

यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आधिकारिक सरकारी आंकड़ों के अनुसार यूपी में फरवरी 2020 तक रोजगार लोगों की संख्या लगभग 34 लाख के करीब थी. लेकिन कोविड-19 के कारण जब देशभर में लॉकडाउन लगा तो उसके बाद लगभग 40 लाख लोग जिन राज्यों में काम कर रहे थे वहां से यूपी वापस लौट आए. साथ ही यह भी बता दें कि जितने भी लोग अपने काम धंधे छोड़कर वापस यूपी में आए उनमें से आधे से ज्यादा कुशल श्रमिक है और इसके साथ-साथ उनमें अर्ध कुशल या फिर अकुशल श्रमिक भी शामिल है. राज्य सरकार ने सभी संबंधित अधिकारियों को मिशन रोजगार योजना को अंतिम रूप देने के निर्देश भी दिए हैं. इसके अलावा आपको बता दें कि मिशन बेरोजगार योजना के तहत यूपी सरकार सभी बेरोजगार लोगों को स्वरोजगार प्रदान करेगी, और इस अभियान को भारत निर्मल भारत योजना के साथ जोड़ा जाएगा.

यहां आपको यह भी बता दें कि इस अभियान के कार्यान्वयन के लिए सभी संबंधित विभाग एक विस्तृत कार्य योजना को तैयार करेंगे जिसमें कौशल प्रशिक्षण, नियुक्तियां, भूमि का आवंटन और डेटा संग्रह इत्यादि शामिल है. इस प्रकार 50 लाख युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार प्रदान करने का लक्ष्य बनाया गया है.

Join whatsapp for latest update

उत्तरप्रदेश प्रवासी आने या बाहर जाने हेतु जनसुनवाई पोर्टल द्वारा ऑनलाइन ऐसे रजिस्ट्रेशन करें.

यूपी के बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार हेल्पडेस्क

यूपी मिशन रोजगार अभियान के तहत यूपी सरकार के मुख्य सचिव ने यह कहा है कि हर विभाग और संगठन में एक रोजगार हेल्प डेस्क स्थापित किया जाना चाहिए ताकि वहां से लोगों को विभिन्न प्रकार के चलाए जा रहे रोजगार और स्वरोजगार कौशल प्रशिक्षण के कार्यक्रमों के बारे में अनिवार्य जानकारी प्राप्त हो सके.

Join telegram

रोजगार के अवसरों का डाटा बेस तैयार करना

यूपी की राज्य सरकार मिशन रोजगार के तहत राज्य के सभी बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार का एक डेटाबेस बनाने और उसे बनाए रखने के लिए प्रतिबंधित है. इसीलिए इस अभियान को कुशलतापूर्वक चलाने के लिए प्रशिक्षण और रोजगार निदेशालय एक एप वेब पोर्टल का निर्माण कर रहा है. जानकारी दे दें कि इस कार्य के लिए श्रम विभाग द्वारा बजट उपलब्ध करवाया जाएगा और नोडल अधिकारी को यह जिम्मेदारी सौंपी जाएगी कि वह ऐप और पोर्टल पर विशेष विभाग से डाटा को अपडेट करें.

ई – क्रय प्रबंधन प्रणाली गेंहू खरीद किसान उत्तरप्रदेश में ऐसे ऑनलाइन आवेदन करें.

यूपी मिशन रोजगार अभियान में नौकरी मेले

यूपी सरकार ने राज्य के सभी निदेशालयों, निगमों, बोर्डों और आयोगों को यह निर्देश दिए हैं कि वह प्रगति पर नजर रखें और विभिन्न हितधारकों के मध्य समन्वय स्थापित करने के लिए एक नोडल अधिकारी की नियुक्ति करें. यहां आपको बता दें कि इंफ्रास्ट्रक्चर एंड इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कमिश्नर को यूपी मिशन रोजगार अभियान की देखरेख के लिए नियुक्त किया गया है और एक उच्च स्तरीय समिति सीएस की अध्यक्षता में हर महीने इस अभियान की निगरानी करने का कार्य करेगी. इसके अलावा आपको जानकारी दे दें कि यूपी के हर जिले में यह योजना जिला स्तर पर लागू की जाएगी और इसके लिए कार्य योजना तैयार करने के लिए जिला मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता में एक समिति को गठित किया जाएगा. साथ ही बता दें कि प्रशिक्षण और रोजगार निदेशालय निजी उद्योगों के साथ मिलकर राज्य में रोजगार मेलों को आयोजित करेगी. इसके अलावा जितने भी सभी विभागों में रिक्त पद है उनमें भी विशेष अभियान चला कर लोगों की नियुक्ति की जाएगी.

सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा यूपी में रोजगार का शुभारंभ

यहां जानकारी दे दें कि इस मिशन के लॉन्चिंग के मौके पर मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ प्राथमिक विद्यालयों में 37,000 नए सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र देकर उन्हें नियुक्त करेंगे और नए नियुक्त किए गए शिक्षकों के साथ वह बातचीत भी करेंगे. यहां आपको जानकारी दे दें कि 16 अक्टूबर 2020 को किए गए एक समारोह में 31,277 नए अध्यापकों को अप्वाइंटमेंट लेटर पहले ही जारी कर दिए गए हैं और 23 अक्टूबर को माध्यमिक विद्यालयों के 3,317 सहायक अध्यापकों को भी अप्वाइंटमेंट लेटर जारी कर दिए हैं. बता दें कि कुल 69,000 शिक्षकों में से 37,000 की नियुक्ति को हाईकोर्ट ने भी अपनी मंजूरी दे दी थी. बता दें कि मिशन रोजगार के अंतर्गत सरकारी विभाग, निगम, परिषद, और स्वयंसेवी संगठन निकाय कौशल प्रशिक्षण और शिक्षा के माध्यम से राज्य में रोजगार के साथ-साथ स्वरोजगार के अवसर भी लोगों के लिए पैदा करने के लिए समन्वय करेंगे.

उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री शिशिक्षु प्रोत्साहन योजना : सरकार दे रही हैं छात्रों को बेरोजगारी भत्ता.

FAQ

Q : यूपी मिशन रोजगार योजना को क्यों शुरू किया गया है ?

Ans : आर्थिक मंदी को खत्म करने के लिए. ‌

Q : यूपी मिशन रोजगार योजना को किसके नेतृत्व में शुरू किया गया है ?

Ans : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.

Q : क्या यूपी मिशन रोजगार योजना का लाभ भारत के अन्य नागरिक भी ले सकते हैं ?

Ans : नहीं.

Q : यूपी मिशन रोजगार योजना को कब शुरू किया गया है ?

Ans : 5 दिसंबर 2020

Q : यूपी मिशन रोजगार योजना के तहत कितने लोगों को रोजगार प्रदान किया जाएगा ?

Ans : 50 लाख.

अन्य पढ़ें –

हमारे द्वारा प्रकाशित समस्त प्रकार के रोजगार एवं अन्य खबरें संबंधित विभाग की वेबसाइट से प्राप्त की जाती है। कृपया किसी प्रकार के रोजगार या खबर की सत्यता की जांच के लिए संबंधित विभाग की वेबसाइट विजिट करें | अपना मोबाइल नंबर या अन्य कोई व्यक्तिगत जानकारी किसी को भी शेयर न करे ! किसी भी रोजगार के लिए व्यक्तिगत जानकारी नहीं मांगी जाती हैं ! डिजिटल एजुकेशन पोर्टल किसी भी खबर या रोजगार के लिए जवाबदेह नहीं होगा .

Team Digital Education Portal

शैक्षणिक समाचारों एवं सरकारी नौकरी की ताजा अपडेट प्राप्त करने के लिए फॉलो करें

Follow Us on Telegram
@digitaleducationportal
@govtnaukary

Follow Us on Facebook
@digitaleducationportal @10th12thPassGovenmentJobIndia

Follow Us on Whatsapp
@DigiEduPortal
@govtjobalert

Show More

Leave a Reply

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please Close Adblocker to show content