Connect with us

education

Weather forecast update बंगाल की खाड़ी में हलचल आधे भारत में आंधी तूफान के साथ बारिश का अलर्ट

Published

on

उत्तर भारत में शुष्क मौसम और गर्मी का प्रकोप लंबे समय से जारी है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने ओडिशा में 20 सितंबर से 23 सितंबर तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. विभाग ने अगले हफ्ते अन्य कई राज्यों में भी भारी बारिश की संभावना जताई है. दरअसल, बंगाल की खाड़ी में 20 सितंबर को एक लो प्रेशर एरिया बन रहा है. इसके कारण कई राज्यों में भारी बारिश हो सकती है. हालांकि, उत्तर भारत में इसका कम असर देखने को मिलेगा.

आईएमडी ने बताया कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण ओडिशा में 20 सितंबर से चार दिन तक भारी बारिश होने की संभावना है. इस दौरान बिजली की गर्जना, आंधी-तूफान के साथ बारिश हो सकती है.

यही कारण है कि विभाग ने मछुआरों को गहरे पानी में नहीं जाने की सलाह दी है. इस चेतावनी के मद्देनजर विशेष राहत आयुक्त पी के जेना ने राज्य के सभी जिला प्रशासनों से हालात से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है.

मौसम का पूर्वानुमान लगाने वाली एजेंसी स्काईमेट की रिपोर्ट के मुताबिक 21 सितंबर से 24 सितंबर तक इसका असर पश्चिम बंगाल और उत्तरी ओडिशा के तटीय इलाकों में ज्यादा दिखेगा. वहीं मध्य भारत के राज्यों जैसे, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में इसके कारण भारी बारिश हो सकती है.

रिपोर्ट के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में बनने वाले लो प्रेशर एरिया का असर उत्तर भारत के कुछ इलाकों तक दिखेगा. राजस्थान और दिल्ली के कुछ इलाकों में भी बादल नजर आएंगे लेकिन यहां बारिश की संभावना न के बराबर है. यानी दिल्ली-एनसीआर इलाके के लोगों को गर्मी का सितम अभी और झेलना पड़ेगा.

दिल्ली में लगातार 8वें दिन बारिश नहीं हुई. पंजाब और हरियाणा में गर्मी से कोई राहत नहीं मिली और तापमान सामान्य से ऊपर बना रहा. आईएमडी के डेटा के अनुसार दिल्ली में अब तक सितंबर में 77 प्रतिशत कम बारिश दर्ज की गई है.

कैसा रहेगा अगले 24 घंटे का मौसम?
अगले 24 घंटों के दौरान सिक्किम, मेघालय, पश्चिम बंगाल और असम के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है. वहीं, ओडिशा, कर्नाटक, मराठवाड़ा, केरल, तमिलनाडु, आंध्र, अरुणाचल, गोवा, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, बिहार और अंडमान व निकोबार के कुछ इलाकों में हल्की बारिश हो सकती है.

अरुणाचल, सूरत, आंध्र में तबाही
अरुणाचल प्रदेश के लेपराडा में बादल फटने के बाद भारी तबाही देखने को मिली है. इसकी वजह से इलाके के कई घर तबाह हो गए. यहां दूर-दूर तक सैलाब नजर आ रहा है. नदियां उफान पर हैं. घरों और खेतों में पानी घुस गया है. वहीं, आंध्र प्रदेश के श्रीसैल में नागार्जुल सागर डैम के 14 दरवाजों को खोला गया. नागार्जुन बांध दुनिया का सबसे लंबा बांध है और कोरोना के चलते इस बांध को पर्यटकों के लिए नहीं खोला गया है.

सूरत में एक बार फिर बारिश अपने साथ आफत लेकर आई. सिर्फ 3 घंटे की बारिश में पूरे शहर में जलभराव हो गया. वीरा नदी उफान पर है. कई सड़कों पर पानी का कब्जा है. आने-जाने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. इधर, महाराष्ट्र के वाशिम में बारिश ने हाहाकार मचा रखा है. गांव से शहर को जोड़ने वाले रास्ते पर बने पूल को भी बारिश के पानी ने अपने आगोश में ले लिया. सड़कों पर कमर तक पानी भरा हुआ है. वहीं घरों में भी पानी घुस चुका है.



Continue Reading
Advertisement
Click to comment

आपके सुझाव हमारे लिए महत्त्वपूर्ण हैं ! इस पोस्ट पर कृपया अपने सुझाव/फीडबैक देकर हमे अनुग्रहित करने का कष्ट करे !

%d bloggers like this: