educationMp news

प्रदेश के 1.20 लाख संविदाकर्मियों के साथ भेदभाव करने की शिकायत वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा से की Digital Education Portal

वेतन बढ़ाने संबंधी प्रस्तावों पर अनुमोदन नहीं देने का मामला।

प्रदेश के 1. 20 लाख संविदाकर्मियों के साथ भेदभाव करने की शिकायत वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा से कीवित्त मंत्री जगदीश देवड़ा से वित्त विभाग के कुछ अधिकारियों की शिकायत हुई है। जिसके बाद अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है। अधिकारी अपना-अपना पक्ष देकर बचने की कोशिशों में जुटे हैं। मामला प्रदेश के 1.20 लाख संविदाकर्मियों से जुड़ा है। ऐसे अधिकारियों पर आरोप है कि ये संविदाकर्मियों के वेतन बढ़ाने में अड़ंगे लगा रहे हैं। मामले में मंत्री ने ठोस कार्रवाई का भरोसा दिया है।

यह है पूरा मामला

संविदा अधिकारी कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष रमेश राठौर ने बीते हफ्ते वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा से प्रतिनिधि मंडल के साथ मुलाकात की है। जिसमें बताया कि संविदाकर्मियों को आधा वेतन ही मिल रहा है। जबकि संविदाकर्मियों के लिए वर्ष 2018 में संविदा नीति बनाई है। इसके तहत संविदा कर्मचारियों को नियमित कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन का 90 फीसद वेतन दिए जाने का प्रविधान किया गया है। इस अनुरूप सभी विभागों ने वित्त विभाग को अपने यहां कार्यरत संविदा कर्मचारियों के वेतनवृद्धि के प्रस्ताव अनुमोदन के लिये भेजे हैं लेकिन वित्त विभाग प्रस्तावों पर सहमति नहीं दे रहा है जिसकी वजह से प्रस्ताव लंबित है और वेतन नहीं बढ़ पा रहा है। जबकि जिन कर्मचारियों के वेतन बढ़ाने संबंधी प्रस्ताव भेजे हैं उनमें से 75 फीसद कर्मचारियों की उम्र 40 से 50 वर्ष के आसपास है। इन्हें सेवा करते हुए वर्षों हो चुके हैं। तब भी वेतन वृद्धि का लाभ नहीं मिल पा रहा है।

कुछ विभागों के प्रस्तावों को हरी झंडी

प्रतिनिधि मंडल ने यह भी आरोप लगाए हैं कि वित्त विभाग के अधिकारियों ने महिला बाल विकास विभाग की सुपरवाईजर, खेल युवक कल्याण विभाग, सामान्य प्रशासन विभाग आदि विभागों के प्रस्तावों पर सहमति दे दी है। बाकी के विभागों के प्रस्तावों पर वित्त विभाग के अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं।

इनके प्रस्ताव अटकें

Join whatsapp for latest update

महासंघ के प्रतिनिधियों ने बताया कि राज्य शिक्षा केंद्र, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, बाल भवन, लोक निर्माण विभाग जैसे कई विभागों के प्रस्तावों पर अनुमति नहीं दी जा रही है। महासंघ के अध्यक्ष रमेश राठौर ने वित्त मंत्री को एक ज्ञापन भी सौंपा है। जिसमें कहा है कि वेतनवृद्धि के प्रस्तावों को अनुमोदित किया जाए। ऐसा नहीं करने की स्थिति में आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे। पूरी बात सुनने के बाद मंत्री ने उचित कार्रवाई का भरोसा दिया है।

  • #Bhopal News in Hindi
  • #Bhopal Latest News
  • #Bhopal Samachar
  • #MP News in Hindi
  • #Madhya Pradesh News
  • #भोपाल समाचार
  • #मध्य प्रदेश समाचार

हमारे द्वारा प्रकाशित समस्त प्रकार के रोजगार एवं अन्य खबरें संबंधित विभाग की वेबसाइट से प्राप्त की जाती है। कृपया किसी प्रकार के रोजगार या खबर की सत्यता की जांच के लिए संबंधित विभाग की वेबसाइट विजिट करें | अपना मोबाइल नंबर या अन्य कोई व्यक्तिगत जानकारी किसी को भी शेयर न करे ! किसी भी रोजगार के लिए व्यक्तिगत जानकारी नहीं मांगी जाती हैं ! डिजिटल एजुकेशन पोर्टल किसी भी खबर या रोजगार के लिए जवाबदेह नहीं होगा .

Join telegram

Team Digital Education Portal

शैक्षणिक समाचारों एवं सरकारी नौकरी की ताजा अपडेट प्राप्त करने के लिए फॉलो करें

Follow Us on Telegram
@digitaleducationportal
@govtnaukary

Follow Us on Facebook
@digitaleducationportal @10th12thPassGovenmentJobIndia

Follow Us on Whatsapp
@DigiEduPortal
@govtjobalert

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please Close Ad Blocker

हमारी साइट पर विज्ञापन दिखाने की अनुमति दें लगता है कि आप विज्ञापन रोकने वाला सॉफ़्टवेयर इस्तेमाल कर रहे हैं. कृपया इसे बंद करें|