education

💥कक्षा 1 से 8 के शिक्षकों के लिए बड़ी खबर 💥 मध्य प्रदेश कक्षा 1 से 8 के स्कूलों में होगी सघन मॉनिटरिंग, राज्य जिला स्तर के अधिकारी करेंगे निरीक्षण, मौके पर दिया जाएगा कारण बताओ सूचना पत्र

मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षा की गुणवत्ता को परखने के लिए अब राज्य में जिला स्तर पर अधिकारियों का दल गठित कर कक्षा एक से आठ के विद्यार्थियों एवं शिक्षकों की सघन मॉनिटरिंग की जाएगी। आपको बता दें कि मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा पिछले 2 वर्षों से हमारा घर हमारा अभियान डीजीलेप सहित विभिन्न शैक्षणिक कार्यक्रम चलाए गए हैं बावजूद इसके जमीनी स्तर पर विद्यार्थियों की कॉपियां शिक्षकों द्वारा चेक नहीं करने की शिकायतें प्राप्त हो रही है। ऐसी स्थिति में अब राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा सभी जिला कलेक्टरों को निर्देश जारी कर 17 से 19 फरवरी के मध्य प्रदेश के समस्त प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों की सघन मॉनिटरिंग कर संबंधित शिक्षक पर आवश्यक अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।

17 से 19 फरवरी के मध्य होगी सघन मॉनिटरिंग

राज्य शिक्षा केंद्र भोपाल द्वारा जारी किए गए पत्र अनुसार 17 फरवरी से 19 फरवरी के मध्य प्राथमिक माध्यमिक स्कूलों की सघन एवं गंभीरता के साथ मॉनिटरिंग की जाएगी। इस संबंध में राज शिक्षा केंद्र ने समस्त कलेक्टर ,जिला शिक्षा अधिकारी ,जिला परियोजना समन्वयक को निर्देश जारी कर कहा गया है कि प्रति दिवस कम से कम 2 स्कूलों की सघन मॉनिटरिंग की जाए।

Capture2022 02 16087239395162806851578.
💥कक्षा 1 से 8 के शिक्षकों के लिए बड़ी खबर 💥 मध्य प्रदेश कक्षा 1 से 8 के स्कूलों में होगी सघन मॉनिटरिंग, राज्य जिला स्तर के अधिकारी करेंगे निरीक्षण, मौके पर दिया जाएगा कारण बताओ सूचना पत्र 11

स्कूलों की मॉनिटरिंग के दौरान संबंधित अधिकारी स्कूल में 2 से 3 घंटे तक रुकेंगे एवं विद्यार्थियों तथा शिक्षकों द्वारा किए गए कार्यों का अवलोकन करते हुए विद्यार्थियों की वर्क बुक वर्कशीट एवं कोपिया जांचने की स्थिति का अवलोकन करेंगे।

इनकी होगी सघन मॉनिटरिंग

जिला स्तरीय संभाग स्तरीय एवं राज्य स्तरीय अधिकारियों के दल द्वारा प्रदेश के विभिन्न प्राथमिक एवं माध्यमिक स्कूलों में प्रति दिवस 2 से 3 घंटे वहीं रुक कर विद्यार्थियों एवं शिक्षकों के निम्नानुसार रिकॉर्ड की सघन मॉनिटरिंग की जाएगी।

  • विद्यार्थियों द्वारा अभ्यास पुस्तिकाओं में कार्य किया गया है अथवा नहीं।
  • क्या विद्यार्थियों द्वारा किए गए कार्य की जांच शिक्षक द्वारा की गई है अथवा नहीं
  • शिक्षक द्वारा पुस्तकों पर प्रिंट क्यूआर कोड का उपयोग किया गया है अथवा नहीं
  • विद्यार्थियों द्वारा अभ्यास पुस्तिका एवं कार्य पुस्तिका में की गई गलतियों पर शिक्षक द्वारा गोला लगाया गया है अथवा नहीं
  • दक्षता उन्नयन, प्रयास अभ्यास पुस्तिका एवं एट ग्रेड सामग्री पर शिक्षक एवं विद्यार्थी द्वारा क्या कार्य किया गया है इसकी जांच की जाएगी।
  • राज्य शिक्षा केंद्र दोबारा समय-समय पर यूट्यूब लाइव के माध्यम से दिए गए निर्देशों के अनुरूप शिक्षकों द्वारा कक्षा गत गतिविधियों एवं कार्य किया गया है अथवा नहीं इसकी भी सघन एवं गंभीर जांच की जाएगी।
  • हमारा घर हमारा विद्यालय एवं डीजी लैप अभियान के दौरान विद्यार्थियों द्वारा किए गए गृह कार्य की जांच एवं शिक्षक द्वारा की गई गलतियों पर स्पष्ट टिप्पणी में हस्ताक्षर की जांच की जाएगी।

शिक्षक क्या करें क्या ना करें?

प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक द्वारा अपने स्कूल एवं विद्यार्थियों की शैक्षणिक गुणवत्ता को बनाए रखने के लिए निम्नानुसार दायित्व का निर्वहन करना चाहिए।

शिक्षक का यह दायित्व है कि यह प्रत्येक विद्यार्थी के स्तर की जानकारी रखे तथा विद्यार्थी की दक्षताओं में सुधार के लिए प्रयास करें। इस हेतु शिक्षक निम्नानुसार कार्यवाही करें :

  • कक्षा में शिक्षण के समय विद्यार्थी से विषयवार कॉपी में कक्षा कार्य और अभ्यास कार्य कराये विद्यार्थी द्वारा किये गये कक्षा कार्य एवं अन्यास कार्य की जाय गभीरतापूर्वक प्रतिदिन की जाए। •
  • जाँच से तात्पर्य शिक्षक द्वारा सिर्फ सही अथवा गलत का निशान लगाना नहीं है अपितु लाल पेन का उपयोग करते हुए त्रुटि को पेन से गोला लगा कर उसका सही स्वरूपमा शब्द अब को सुधार कार लिखना और इसके लिए टीप लिखने से है। •
  • यदि गणित या विज्ञान की किसी भी अवधारणा या प्रश्न हल करने में अपनाई गई प्रक्रिया में हो तो उसे इंगित करने के लिए स्पष्ट मेरा/निर्देश अक्ति करें।
  • विद्यार्थियों को इसके अनुसार सुधार का अवसर दे एवं पुनः सुधार करके लिखने को कहें सुधार कार्य को भी जाँचा जाए।
  • शिक्षक विद्यार्थियों द्वारा किये गये अभ्यास कार्य को जाँच कर अंत में हस्ताक्षर करें और उसके नीचे जाँच की तारीख अंकित करें।

डाइट, डीपीसी एवं प्राचार्य / प्रधानाध्यापक के दायित्व –

  • म.प्र. के समस्त जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डाईट) स्तर से एवं जिला परियोजना समन्वयक से 5 शालाओं को वीडियो कॉल कर विद्यालय में संचालित गतिविधियों की मॉनीटरिंग करे।
  • डी.पी.सी एवं प्राचार्य डाइट जन शिक्षकों के कार्य के लिए नोडल रहेंगे तथा सप्ताह के अंत में जाना शिक्षकों के द्वारा किये गये कार्य की समीक्षा करेंगे।
  • प्रत्येक जन शिक्षक अपने जन शिक्षा केन्द्र के अंतर्गत समस्त शालाओं की मॉनीटरिंग कर एक प्रमाण पत्र विकासखण्ड कार्यालय को प्रस्तुत करे प्रमाण पत्र फॉरमेट में यह अंकित करें कि “मेरे जन शिक्षा केन्द्र में संचालित समस्त शालाओं में विभिन्न विषयों के कॉपियों एवं उत्तर पुस्तिकाओं एवं वर्कबुक (दक्षता उन्नयन) की जाँच का कार्य निर्देशानुसार पूर्ण कराया गया है।”
  • एकीकृत शालाओं में संस्थान के प्राचार्य उक्त कार्य को संपन्न कराए।
  • सी.एम. राइज शालाओं में यदि शाला 02 कैम्पस में संचालित है तो दोनों के अंतर्गत गतिविधियों के निर्देशानुसार संचालन का उत्तरदायित्व संबंधित प्राचार्य का होगा।

संभाग / जिला / विकासखंड / जनशिक्षा केन्द्र का दायित्व

  • शाला भ्रमण में अनिवार्यत शिक्षक विद्यार्थियों से कॉपी चेकिंग के संबंध में किए जा रहे कार्य सत्यापन कर एवं अवलोकन पंजी में टिप अंकित करें। •
  • मोनिटरिंगकर्ता अवलोकित किए जाने वाले किसी एक कक्षा के अभ्यास कार्य सहित पुस्तिकाओं को रेडम आधार पर 10-10 अभ्यास पुस्तिकाएं को प्राप्त कर उनकी ऑन स्पॉट
    चेकिंग करे और देखे कि क्या
  • क्या शिक्षक द्वारा विद्यार्थियों को नियमित रूप से कार्य दिया जा रहा है?
  • क्या विद्यार्थियों को दिये गये अभ्यास कार्य को नियमित रूप से जांच की जा रही है?
  • क्या विद्यार्थियों की अभ्यास-पुस्तिकाओं में अभ्यास कार्य के जांच के दौरान त्रुटिसूधर हेतु लाल स्याही से गोले लगाए गये हैं और उनके पास सही शब्द लिखे गये
  • क्या विद्यार्थियों को नियमित रूप व्यक्तिगत/टीप देकर पुनः अभ्यास कराया जा रहा है
  • क्या विद्यार्थियों की अभ्यास कार्य पुस्तिकाओं का शिक्षकों द्वारा संस्था प्रमुख समय-समय पर अवलोकन किया गया है?
  • मोनिटरिंगकर्ताओं द्वारा विद्यार्थियों की पुस्तिकाओं का अवलोकन करने के पश्चात इस संबंध में चर्चा की जाए तथा सामान्यत की जाने वाली गलतियों पर शिक्षकों से सुझाव लिए जावे।
  • जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा अधिकारी इस पत्र को सभी संस्था प्रमुख को उपलब्ध करवाए ●
  • संभागीय संयुक्त संचालक प्रत्येक माह अपने प्रत्येक जिले में इस कार्य को समान जिला विकासखण्ड संकुल एवं जन शिक्षा केन्द्र पर मानिटरिंग सुनिश्चित करें।
Img 20220216 0921311654704438947976673
💥कक्षा 1 से 8 के शिक्षकों के लिए बड़ी खबर 💥 मध्य प्रदेश कक्षा 1 से 8 के स्कूलों में होगी सघन मॉनिटरिंग, राज्य जिला स्तर के अधिकारी करेंगे निरीक्षण, मौके पर दिया जाएगा कारण बताओ सूचना पत्र 12
Img 20220216 0921444370195211617134588
Img 20220216 0922028999987318427617632
Img 20220216 0922186059011142136326018

Join whatsapp for latest update

Join telegram
Show More

Leave a Reply

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please Close Adblocker to show content