educationEducational NewsSchool Re-open

दीपावली के बाद ही स्कूल फिर से खोलने पर विचार करेगी गुजरात सरकार

दीपावली के बाद ही स्कूल फिर से खोलने पर विचार करेगी गुजरात सरकार

नई दिल्ली. गुजरात सरकार दीपावली के बाद ही स्कूल पुन: खोलने पर विचार करेगी. राज्य शिक्षा विभाग के सचिव विनोद राव ने कहा कि स्कूल खोलने की तत्काल कोई योजना नहीं है.

दीपावली की छुट्टियों के बाद ही स्कूल फिर से खोलने पर विचार
राव ने शनिवार को न्यूज एजेंसी से कहा, हम तत्काल ऐसा नहीं करेंगे. हम कोरोना वायरस संक्रमण संबंधी स्थिति के आकलन के बाद दीपावली (की छुट्टियों) के बाद ही स्कूल फिर से खोलने पर विचार करेंगे. उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग इस मामले को लेकर अभिभावकों के प्रतिनिधियों और स्कूल संघों के संपर्क में है.

दीपावली इस साल 14 नवंबर को मनाई जाएगी.

Bihar Teacher Recruitment: टीचर्स के लिए 4338 पदों पर हो रही बंपर भर्ती

दीपावली के बाद ही स्कूल फिर से खोलने पर विचार करेगी गुजरात सरकार

दीपावली के बाद ही स्कूल फिर से खोलने पर विचार करेगी गुजरात सरकार
अधिकतर अभिभावकों को लगता है कि मौजूदा अकादमिक सत्र में स्कूल पुन: खोलने का कोई औचित्य नहीं है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

शिक्षकों का मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए स्कूल जाने की अनुमति
राज्य सरकार ने पूर्व में 21 सितंबर से स्कूल पुन: नहीं खोलने का फैसला किया था. केंद्र की मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के तहत छात्रों को अभिभावकों की अनुमति से शिक्षकों का मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए स्कूल जाने की अनुमति दी गई थी. नई एसओपी के अनुसार केंद्र ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को 15 अक्टूबर से चरणबद्ध तरीके से स्कूल पुन: खोलने का फैसला करने की अनुमति दी है.

15 अक्टूबर से स्कूल पुन: खोलने के दिशा-निर्देश लागू नहीं 
गुजरात के स्व-वित्तपोषित विद्यालय प्रबंधन संघ के उपाध्यक्ष जतिन भराड ने कहा, 15 अक्टूबर से स्कूल पुन: खोलने के केंद्र के दिशा-निर्देश को गुजरात में कोविड-19 हालात के कारण लागू नहीं किया जा सकता. खासकर 10वीं कक्षा से नीचे के छात्रों के लिए स्कूल खोलना जल्दबाजी होगा.

Join whatsapp for latest update

बड़ी खबर: यूपी में 19 अक्टूबर से खुलेंगे स्कूल, सरकार ने लिया फैसला

अक्टूबर में हालात सुधरे तो नवंबर में स्कूल पुन: खोले जाने पर विचार 

उन्होंने कहा कि यदि सरकार और स्कूल कक्षाएं पुन: आरंभ करने पर सहमत हो भी जाते हैं, तो भी अभिभावक इसके इच्छुक नहीं होंगे.

Join telegram

भराड ने कहा कि यदि अक्टूबर में हालात में सुधार होता है, तो नवंबर में स्कूल पुन:

खोले जाने पर विचार किया जा सकता है.

सरकार छात्रों को अगली कक्षा में भेजने पर विचारे

अखिल गुजरात अभिभावक संघ के अध्यक्ष नरेश शाह ने कहा कि

अधिकतर अभिभावकों को लगता है कि मौजूदा अकादमिक सत्र में स्कूल पुन:

खोलने का कोई औचित्य नहीं है और सरकार को छात्रों को अगली कक्षा में भेजने पर विचार करना चाहिए.

ISRO Recruitment 2020: इसरो में कई पदों के लिए निकली है वैकेंसी, 2 लाख सैलरी

Show More

Leave a Reply

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please Close Adblocker to show content