education

💥Mp Teacher Transfer Big Breaking 💥 : इन शिक्षकों के रोके जायेंगे ट्रांसफर, रिलीविंग जॉइनिंग को लेकर शिक्षा विभाग ने जारी किए ये निर्देश

Mp teacher transfer, teacher transfer update, reliving joining,shikshak transfer, Education Portal,roms portal, NAV niyukt teacher transfer, सीएम राइज स्कूल ट्रान्सफर,शिक्षक कार्यमुक्ति निर्देश,

💥mp teacher transfer big breaking 💥 : इन शिक्षकों के रोके जायेंगे ट्रांसफर, रिलीविंग जॉइनिंग को लेकर शिक्षा विभाग ने जारी किए ये निर्देश
Teacher Transfer Order Education 2022

स्थानांतरण नीति 2022 के अनुक्रम में शिक्षकों के ऑनलाइन ट्रांसफर आदेश जारी किए जा चुके हैं जिन्हें एम.पी एजुकेशन पोर्टल पर देखा जा सकता है। स्थानांतरित शिक्षकों की सूची संकुलवार भी प्रदर्शित हो रही है.

नव नियुक्त शिक्षकों के रोके गए ट्रांसफर

मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जारी नवीन स्थानांतरण नीति 2022 के अनुसार नवीन भर्ती अंतर्गत नवनियुक्त शिक्षकों के ट्रांसफर 3 वर्ष के पूर्व नहीं किए जाने के निर्देश ट्रांसफर नीति में दिए गए हैं जो कि निम्नानुसार है

नवीन भर्ती द्वारा नियुक्त किए जाने वाले विभिन्न संवर्ग के शिक्षकों को सामान्यतः ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित विद्यालयों में पदस्थ किया जाएगा तथा उस विद्यालय में उन्हें न्यूनतम 3 वर्ष की सेवा अवधि या परिवीक्षा अवधि जो भी अधिक हो तक कार्य करना होगा । ऐसे शिक्षकों को संपूर्ण सेवा अवधि में न्यूनतम 10 वर्ष ग्रामीण क्षेत्र में कार्य करना होगा। केवल विशेष विद्यालयों में चयन परीक्षा के माध्यम से चयनित शिक्षकों के लिए स्थानांतरण में शिथिलता प्रदान की जाएगी

Img 20221026 0014478611230593555656013
नव नियुक्त शिक्षकों के ट्रांसफर कंडिका 2.14

अतः स्थानांतरण उपरांत शिक्षकों के रिलीविंग एवं जॉइनिंग के संबंध में निम्नानुसार निर्देश प्रसारित किए जाते हैं.

नवनियुक्त शिक्षकों को केवल पारस्परिक ट्रांसफर की शिथिलता

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा ट्रांसफर नीति 2022 की कंडिका 2.14 के अनुसार नवनियुक्त शिक्षकों के ट्रांसफर 3 वर्ष के पूर्व नहीं किए जाने के निर्देश प्रसारित किए गए थे। लेकिन बाद में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा नवनियुक्त शिक्षकों को भी ट्रांसफर के अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से पारस्परिक स्थानांतरण नियमों में शिथिलता प्रदान करते हुए ऑनलाइन आवेदन करने की अनुमति दी गई थी।

नवनियुक्त शिक्षकों के पारस्परिक ट्रांसफर के लिए दी गई अनुमति के निर्देश निम्नानुसार हैं

Join whatsapp for latest update
Img 20221026 085519 0705497869094076782449
💥Mp Teacher Transfer Big Breaking 💥 : इन शिक्षकों के रोके जायेंगे ट्रांसफर, रिलीविंग जॉइनिंग को लेकर शिक्षा विभाग ने जारी किए ये निर्देश 9

पारस्परिक ट्रांसफर के अलावा शिक्षक ट्रांसफर के लिए नवनियुक्त शिक्षकों के आवेदन अमान्य

उपरोक्त अनुसार मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षकों के ट्रांसफर को लेकर जारी की गई ट्रांसफर नीति 2022 एवं नवनियुक्त शिक्षकों के लिए पारस्परिक ट्रांसफर में नियमों को शीतलता प्रदान की गई हैं अर्थात नवनियुक्त शिक्षकों को केवल पारस्परिक ट्रांसफर के अवसर प्रदान किए गए हैं। इसमें भी विभागीय विशेष विद्यालय जैसे कि उत्कृष्ट स्कूल ,मॉडल स्कूल सी एम राइज स्कूल में चयनित शिक्षक के ट्रांसफर को प्रतिबंधित किया गया है।

अतः ऐसे समस्त नवनियुक्त शिक्षक जोकि विशेष विभागीय विद्यालयों में पदस्थ हैं अथवा जिन्होंने पारस्परिक स्थानांतरण के स्थान पर स्वैच्छिक स्थानांतरण के आवेदन किए थे एवं जिनके ट्रांसफर आदेश जारी हो चुके हैं उनके ट्रांसफर रोकने के निर्देश cpi द्वारा प्रसारित किए गए हैं।

Join telegram

अर्थात नवनियुक्त शिक्षकों के स्वैच्छिक ट्रांसफर आवेदनों पर जारी स्थानांतरण आदेश पर अब अंतिम निर्णय लोक शिक्षण संचालनालय मध्यप्रदेश करेगा।

शिक्षकों के ट्रांसफर के पश्चात उन्हें भार मुक्त एवं जॉइनिंग को लेकर डीपीआई ने जारी किए यह निर्देश

  1. शिक्षकों को ऑनलाइन ही रिलीव किया जाए अथवा ऑनलाइन ही ज्वाइन कराया जाए। पोर्टल से रिलीविंग एवं ज्वाइनिंग का प्रिंट निकाल कर हस्ताक्षर कर एक प्रति सबंधित को प्रदान करे और एक प्रति कार्यालय में संधारित करे।
  2. शिक्षकों को कार्यमुक्त/ उपस्थित कराने के पूर्व नवीन स्थानांतरित संस्था में वर्तमान में पद रिक्त की वास्तविक स्थिति सुनिश्चित करे। पद रिक्त न होने पर कार्यमुक्त न करे और न ही सबंधित को किसी भी स्थिति में ज्वाइन कराए।
  3. ऑनलाइन कार्यमुक्त करने के पूर्व सबंधित से उसका ऑनलाइन लॉक आवेदन लेकर पॉलिसी के बिंदु 3.1.2, 3.1.9 एवं 3.1.10 के अनुसार वरीयता का परीक्षण करे एवं आवश्यक प्रमाण ले। विसंगति पाए जाने पर कार्यमुक्त न करे एवं कार्यालय को अवगत कराए।
  4. यदि शिक्षकों के स्थानांतरण से संस्था शून्य शिक्षकीय हो रही है तब ऐसी स्थिति में शिक्षकों को कार्यमुक्त न किया जावे। यदि किसी संस्था में सभी पदस्थ शिक्षकों के ट्रांसफर हो गए है तो उनको पॉलिसी में दिए गए वरीयता अनुसार कार्यमुक्त करे।
  5. ऑनलाइन कार्यमुक्त करने के पहले स्थानांतरित शिक्षक के पास मौजूद समस्त प्रभार अन्य शिक्षक को दिलाना सुनिश्चित करे।
  6. अन्य जिले से स्थानांतरण से आए शिक्षक या अन्य जिलों में जाने वाले शिक्षक कार्यमुक्त होने के उपरांत सर्वप्रथम डीईओ कार्यालय में उपस्थिति देंगे।
  7. सबंधित शिक्षक की नियुक्ति स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत नवीन संवर्ग (प्राथमिक, माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक शिक्षक) में नहीं (अर्थात्‌ संविलियन नहीं हुआ है) हुई है तो उनका ट्रांसफर ऑर्डर निरस्त माना जाएगा।
  8. ट्रांसफर ऑर्डर के बिंदु क्रमांक 1, 2, 8 एवं 9 का पालन आवश्यक रूप से करे। विसंगति पाए जाने पर डीईओ कार्यालय को सूचना दे।
  9. सीएम राइज, मॉडल एवं उत्कृष्ट विद्यालय में पदस्थ शिक्षकों के ट्रांसफर आदेश जारी होने पर भी उनको कार्यमुक्त नही किया जावेगा। ऐसी स्थिति के सूचना डीईओ कार्यालय को अवश्य दे।

उक्त निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाना सुनिश्चित करे।

CPI BHOPAL

Show More

Leave a Reply

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please Close Adblocker to show content