B.ed-D.ededucationEducational News

बी.एड., एम.एड., बी.पी.एड., एम.पी.एड., बी.एड. एम.एड. (एकीकृत तीन वर्षीय) एवं बी.ए.बी.एड., बी.एससी.बी.एड., बी.एल.एड. तथा बी.एड. (अंशकालीन-तीन वर्षीय) पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश 2022-23

नमस्कार साथियों आज हम इस लेख के माध्यम से आपको बी.एड., एम.एड., बी.पी.एड., एम.पी.एड., बी.एड. एम.एड. (एकीकृत तीन वर्षीय) एवं बी.ए.बी.एड., बी.एससी.बी.एड., बी.एल.एड. तथा बी.एड. (अंशकालीन-तीन वर्षीय) पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश प्रक्रिया ,आवश्यक दिशा निर्देश, पात्रता एवं ऑनलाइन आवेदन करने संबंधित समस्त जानकारियां उपलब्ध करवाने जा रहे हैं. कृपया इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़े ताकि आपको b.Ed एमपीएड m.Ed b.a. b.Ed बीएससी बीएड कोर्स करने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश पात्रता एवं आवश्यक शर्तों के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके.

Table of Contents
देश में अध्यापक शिक्षण प्रशिक्षण कार्यक्रमों का संचालन विद्यालयों में शिक्षण के लिए प्रशिक्षित शिक्षकों को तैयार करने के उद्देश्य से किया जाता है। ऐसे पाठ्यक्रमों का विनियमन केंद्रीय अधिनियम से स्थापित राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद द्वारा किया जाता है। वर्तमान में अध्यापक शिक्षण प्रशिक्षण कार्यक्रमों के विनियमन के लिए राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (मान्यता मानदंड तथा क्रियाविधि) विनियम, 2014 प्रभावशील है। दो वर्षीय अध्यापक शिक्षा कार्यक्रमों (पाठ्यक्रमों) शिक्षा में स्नातक डिग्री (बी.एड). शिक्षा में मास्टर डिग्री ( एम.एड), शारीरिक शिक्षा स्नातक डिग्री (बी.पी.एड). शारीरिक शिक्षा में मास्टर डिग्री (एम.पी. एड.). तीन वर्षीय एकीकृत बी.एड. एम.एड., चार वर्षीय एकीकृत बी.ए.बी.एड., बी.एससी.बी.एड. एवं बी.एल. एड. तथा बी.एड (अंशकालीन-तीन वर्षीय) पाठ्यक्रमों को प्रथम वर्ष (सत्र 2022-23) में प्रवेश के लिए प्रवेश प्रक्रिया को संचालित करने के उद्देश्य से मार्गदर्शी सिद्धान्त, 2022-23 जारी किए जाते हैं। इन सिद्धांतों के अध्ययाधीन उपरोक्त किसी कार्यक्रम में प्रवेश के उपरांत अध्ययनरत विद्यार्थियों के लिए संबंधित विश्वविद्यालयों के अधिनियम, अध्यादेश परिनियम एवं निर्देश लागू होंगे, बशर्ते कि राज्य शासन, राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद या माननीय न्यायालय द्वारा संबंधित विषय पर कोई विधिमान्य पृथक निर्देश जारी नहीं किए गए हों। माननीय सर्वोच्च न्यायालय की याचिका क्रमांक डब्ल्यू.पी. (सिविल) 276 / 2012 में पारित आदेश दिनांक 13.12.2012 एवं संशोधन दिनांक 26.6.2013 एवं आई.ए.एन.ओ.एस. 113 एवं 114/ 2014 की सिविल अपील 5914 / 2011 में पारित आदेश दिनांक 13.8.2014 के परिप्रेक्ष्य में निहित निर्देशों का अनुपालन करते हुए इन मार्गदर्शी सिद्धांतों को निर्मित एवं व्याख्यायित किया गया है।
B.Ed.,M.Ed. B.P.ed, M.P.Ed., B.Sc. B.Ed.,B.L.Ed. ADMISSION 2022,

देश में अध्यापक शिक्षण प्रशिक्षण कार्यक्रमों का संचालन विद्यालयों में शिक्षण के लिए प्रशिक्षित शिक्षकों को तैयार करने के उद्देश्य से किया जाता है। ऐसे पाठ्यक्रमों का विनियमन केंद्रीय अधिनियम से स्थापित राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद द्वारा किया जाता है। वर्तमान में अध्यापक शिक्षण प्रशिक्षण कार्यक्रमों के विनियमन के लिए राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (मान्यता मानदंड तथा क्रियाविधि) विनियम, 2014 प्रभावशील है। दो वर्षीय अध्यापक शिक्षा कार्यक्रमों (पाठ्यक्रमों) शिक्षा में स्नातक डिग्री (बी.एड). शिक्षा में मास्टर डिग्री ( एम.एड), शारीरिक शिक्षा स्नातक डिग्री (बी.पी.एड). शारीरिक शिक्षा में मास्टर डिग्री (एम.पी. एड.). तीन वर्षीय एकीकृत बी.एड. एम.एड., चार वर्षीय एकीकृत बी.ए.बी.एड., बी.एससी.बी.एड. एवं बी.एल. एड. तथा बी.एड (अंशकालीन-तीन वर्षीय) पाठ्यक्रमों को प्रथम वर्ष (सत्र 2022-23) में प्रवेश के लिए प्रवेश प्रक्रिया को संचालित करने के उद्देश्य से मार्गदर्शी सिद्धान्त, 2022-23 जारी किए जाते हैं। इन सिद्धांतों के अध्ययाधीन उपरोक्त किसी कार्यक्रम में प्रवेश के उपरांत अध्ययनरत विद्यार्थियों के लिए संबंधित विश्वविद्यालयों के अधिनियम, अध्यादेश परिनियम एवं निर्देश लागू होंगे, बशर्ते कि राज्य शासन, राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद या माननीय न्यायालय द्वारा संबंधित विषय पर कोई विधिमान्य पृथक निर्देश जारी नहीं किए गए हों। माननीय सर्वोच्च न्यायालय की याचिका क्रमांक डब्ल्यू.पी. (सिविल) 276 / 2012 में पारित आदेश दिनांक 13.12.2012 एवं संशोधन दिनांक 26.6.2013 एवं आई.ए.एन.ओ.एस. 113 एवं 114/ 2014 की सिविल अपील 5914 / 2011 में पारित आदेश दिनांक 13.8.2014 के परिप्रेक्ष्य में निहित निर्देशों का अनुपालन करते हुए इन मार्गदर्शी सिद्धांतों को निर्मित एवं व्याख्यायित किया गया है।

Follow Us on Google News - Digital Education Portal
Follow Us on Google News – Digital Education Portal

MP B.ed. D.El.Ed. मध्यप्रदेश बी.एड., डी.एड., डी एल.एड. प्रवेश 2021 शासकीय शिक्षक प्रशिक्षण संस्थानों में अब नवीन छात्रों को भी मिलेगा प्रवेश, विद्यार्थी एमपी ऑनलाइन के माध्यम से शीघ्र कर सकेंगे आवेदन(Opens in a new browser tab)

सत्र 2022-23 में कोरोना (कोविड-19) के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया में प्रदेश के विश्वविद्यालय / एम.पी. बोर्ड / सी.बी.एस.ई बोर्ड / म.प्र. ओपन स्कूल द्वारा उत्तीर्ण आवेदकों के दस्तावेजों का ऑनलाइन सत्यापन किया जाएगा। अर्हताकारी परीक्षा अंतिम वर्ष / सेमेस्टर का परीक्षा परिणाम घोषित न होने पर विगत वर्षो / सेमेस्टरों के परीक्षा परिणाम एवं प्रवेश हेतु प्रावीण्यता के आधार पर सीट आवंटन किया जाएगा शुल्क विनियामक समिति द्वारा आवंटित महाविद्यालय हेतु निर्धारित प्रवेश शुल्क की आधी राशि प्रवेश की प्रारंभिक प्रक्रिया के समय तथा शेष आधी राशि प्रवेशित महाविद्यालय में दो किश्तों में डिजिटल माध्यम से जमा करने की सुविधा है। हेल्प सेन्टर की संख्या 156 है।

ऑनलाइन होगी प्रवेश प्रक्रिया 2022-23

राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद् से मान्यता प्राप्त एवं संबंधित विश्वविद्यालयों से संबद्धता प्राप्त प्रदेश के अशासकीय महाविद्यालयों, शारीरिक शिक्षण संस्थाओं एवं विश्वविद्यालयों के शिक्षण एवं शारीरिक शिक्षण विभागों मध्यप्रदेश शासन स्कूल शिक्षा विभाग के अध्यापक शिक्षा महाविद्यालयों / संस्थानों में संचालित दो वर्षीय बी.एड. एम.एड. बी.पी.एड. एम.पी.एड. तीन वर्षीय एकीकृत थी.एड. एम.एड. चार वर्षीय एकीकृत बी.ए.बी.एड., बी.एससी.बी.एड. एवं बी.एल.एड तथा बी.एड. (अंशकालीन-तीन वर्षीय) पाठ्यक्रमों में उपलब्ध स्थानों (सीटों पर प्रवेश के लिए एम.पी. ऑनलाइन के माध्यम से प्रवेश की प्रक्रिया ऑनलाइन सम्पन्न होगी।

अर्हताकारी परीक्षा के प्राप्तांकों के मेरिट आधार पर होगा प्रवेश

अर्हताकारी परीक्षा के प्राप्तांकों के गुणानुकम के आधार पर मेरिट सूची जारी की जायेगी। मेरिट सूची के आधार पर ऑनलाइन काउंसलिंग के माध्यम से प्रवेश प्रक्रिया पूर्ण की जायेगी। किसी भी आवेदक को संबंधित पाठ्यक्रम में ऑफलाइन प्रवेश का अधिकार प्राप्त नहीं होगा। आवेदक से अपेक्षित सभी मूल प्रमाण पत्रों के सत्य एवं प्रामाणिक पाये जाने पर ही आवेदक को प्रवेश की पात्रता होगी।

अतः प्रवेश प्रक्रिया के लिए ऑनलाइन आवेदन पंजीकृत करने के पूर्व आवेदक को पूरी तरह सुनिश्चित करना चाहिए कि यह वांछित कार्यक्रम में प्रवेश की पात्रता / योग्यता रखता है एवं उसके द्वारा आवेदन में दी जा रही जानकारियाँ पूर्णतः सत्य हैं, जिसके ऑनलाईन सत्यापन के लिए उसके पास आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध हैं।

Join WhatsApp For Latest Update

प्रवेश की सम्पूर्ण प्रक्रिया पारदर्शी होगी। मेरिट सूची / समेकित मेरिट सूची के प्रावीण्य क्रमांक एवं ऑनलाइन काउंसलिंग में आवेदकों द्वारा व्यक्त की गई शिक्षण संस्थाओं की वरीयता के आधार पर आवंटन जारी किया जाएगा। अतः इन कार्यक्रमों (पाठ्यक्रमों) को संचालित करने वाली शिक्षण संस्थाओं का यह समग्र दायित्व है कि वे विद्यार्थियों को स्तरीय शिक्षा प्रदान करें ताकि आवेदक उनकी शिक्षण संस्था को अपनी व्यक्त की गई वरीयता में उच्च क्रम पर रखें जिससे कि वर्तमान सत्र में उनकी संस्थाओं में पूर्ण आवंटन / प्रवेश हो सके आवंटन उपरांत आवेदक द्वारा प्रवेश लेना या नहीं लेना उनकी अभिरुचि पर निर्भर करता है।

मिश्र धातु निगम लिमिटेड मे 158 आईटीआई ट्रेड अपरेंटिस की भर्ती,जल्द से जल्द करे आवेदन ।(Opens in a new browser tab)

दस्तावेजों का सत्यापन

  1. आवेदक द्वारा ऑनलाइन आवेदन के साथ ही अर्हकारी दस्तावेजों को स्कैन कर अपलोड करेंगे।
  2. हेल्प सेंटर (शासकीय महाविद्यालय) दस्तावेजों का ऑनलाइन सत्यापन करेंगे।
  3. आवेदक का ऑनलाईन सत्यापन न होने की स्थिति में आवेदक द्वारा निर्धारित तिथियों में निर्धारित हेल्प सेंटर, जो कि चयनित शासकीय महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय हैं. (परिशिष्ट-3 एवं 4) में स्वयं उपस्थित होकर दस्तावेजों का सत्यापन कराना अनिवार्य होगा।
  4. आवेदक द्वारा निर्धारित तिथि तक पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन निर्धारित शुल्क जमा करने एवं प्रवेश पोर्टल से शुल्क जमा करने की पुष्टि होने पर ही आवेदक का नाम संबंधित महाविद्यालय की प्रवेश सूची में दर्शित होगा।

एन.सी.टी.ई. पाठ्यक्रमों में प्रवेश प्रक्रिया के लिए ऑनलाइन पोर्टल पर महाविद्यालयों को नाम जोड़ना

  • प्रत्येक महाविद्यालय को ऑनलाइन प्रोफाईल बनानी होगी।प्रोफाईल बनाने का कार्य प्रवेश प्रक्रिया आरंभ होने के पूर्व किया जाएगा।
  • प्रोफाईल बनाने के बाद संबंधित विश्वविद्यालय द्वारा सम्बद्धता प्रमाणीकरण के अप्रूवल की कार्यवाही ऑनलाइन पोर्टल के द्वारा की जाएगी।
  • एन.सी.टी.ई. द्वारा मान्यता सूची में नाम उपलब्ध होने पर एवं शुल्क विनियामक आयोग की शुल्क सूची में
  • नाम होने पर आयुक्त उच्च शिक्षा स्तर पर ऑनलाइन सत्यापन किया जाएगा।
  • माननीय न्यायालय से प्राप्त होने वाले निर्णयों के लिए भी संबंधित आवेदक महाविद्यालयों को ऑनलाइन पोर्टल पर अपनी प्रोफाईल दर्ज करना अनिवार्य होगा। तदोपरांत शेष कार्यवाही नियमानुसार आयुक्त उच्च शिक्षा एवं विश्वविद्यालय स्तर से ऑनलाइन पूर्ण की जायेगी ।

मेरिट सूची का प्रकाशन एवं महाविद्यालय का आवंटन

अर्हताकारी परीक्षा के प्राप्तांक एवं बी.पी.एड., एम.पी.एड. हेतु वांछित अन्य प्राप्तांकों के आधार पर प्रवेश हेतु ऑनलाइन पंजीकरण करा चुके आवेदकों की मेरिट सूची / समेकित मेरिट सूची एम०पी० ऑनलाइन द्वारा प्रकाशित की जाएगी।

UPPSC Recruitment 2021: आयोग ने जारी की इंजीनियर सहित कई पदों के लिए नोटिफिकेशन, 39 हजार तक मिलेगी सैलरी(Opens in a new browser tab)

कोरोना (कोविड- 19) के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए वर्ष 2021-22 में अंतिम वर्ष की परीक्षाऐ आयोजित नहीं होने की स्थिति में ऐसे पाठ्यक्रम जिनमें प्रवेश हेतु शैक्षणिक योग्यता स्नातक निर्धारित है, के प्रथम तथा द्वितीय वर्ष के कुल प्राप्तांकों के आधार पर मेरिट सूची प्रकाशित की जायेगी तथा अनन्तिम प्रवेश दिया जायेगा । तृतीय वर्ष की परीक्षा आयोजित होने के उपरांत उसमें उत्तीर्ण होने पर ही प्रवेश को अंतिम रूप से मान्य किया जायेगा।

एम.पी. ऑनलाइन द्वारा प्रवेश आवंटन हेतु आयोजित ऑनलाइन काउंसलिंग के लिए पंजीयन एवं वरीयता व्यक्त करना।

आवेदकों को प्रवेश हेतु काउंसलिंग में सम्मिलित होने के लिये एम०पी० ऑनलाइन की वेबसाइट पर निर्धारित तिथि में पोर्टल शुल्क जमा करते हुए पंजीयन एवं महाविद्यालयों की वरीयता व्यक्त करनी होगी।

बी.पी.एड. एवं एम.पी.एड. हेतु कमशः फिटनेस, प्रोफिसिएन्सी टेस्ट अनिवार्य होगा। पंजीकृत आवेदकों को गुणानुकम एवं महाविद्यालय की व्यक्त वरीयता के आधार पर मेरिट सूची के ऑनलाइन प्रकाशन उपरांत प्रत्येक संबंधित पाठ्यक्रम के महाविद्यालयों हेतु विभिन्न श्रेणियों में लोवर कट ऑफ की जानकारी के साथ, सीट आवंटन पत्र (Seat-Allotment-Letter) जारी किये जायेंगे।

प्रवेश शुल्क भुगतान एवं आवंटित महाविद्यालय में प्रवेश

कोरोना (कोविड-19) संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए प्रवेश शुल्क किश्तों में जमा करने की सुविधा प्रदान करते हुए यह प्रस्तावित है कि आनलाइन सीट आवंटन उपरान्त आवेदक को शुल्क विनियामक समिति द्वारा आवंटित महाविद्यालय / विश्वविद्यालय हेतु निर्धारित प्रवेश शुल्क की आधी राशि आयुक्त, उच्च शिक्षा.भोपाल के खाते में एम.पी. ऑनलाइन के पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन जमा कराने के पश्चात् ही आवेदक के प्रवेश की प्रारंभिक प्रक्रिया पूरी होगी। शेष आधी राशि प्रवेशित महाविद्यालय द्वारा निर्धारित समयावधि में दो किश्तों में डिजीटल माध्यम से जमा करना अनिवार्य होगा।

पाठ्यक्रमों में प्रवेश की पात्रता प्रवेश प्रक्रिया तथा पाठ्यक्रम शुल्क

आवेदकों को संबंधित पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद् (एन.सी.टी.ई.) के रेग्युलेशन 2014 में निर्धारित मानकों एवं मानदंडों के अनुसार संबंधित पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु निम्नांकित शर्तें पूर्ण करना आवश्यक है।

शैक्षणिक योग्यता

स्नातक अथवा स्नातकोत्तर उपाधि (विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, मानविकी विषयों में) 50 प्रतिशत अंकों के साथ, इसके अतिरिक्त इंजीनियरिंग या तकनीकी (विज्ञान एवं गणित विशेषज्ञता ) में 55 प्रतिशत अंकों के साथ या अन्य समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण आवेदक प्रवेश हेतु पात्र होंगे। अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों के लिए अर्हतादायी अंकों में 05 प्रतिशत की छूट रहेगी। उन्हीं स्नातक एवं स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के प्राप्तांकों को मान्य किया जायेगा, जिनकी पाठ्यक्रम अवधि क्रमश: न्यूनतम तीन वर्ष एवं दो वर्ष की होगी।

बी.एड. पाठ्यक्रम हेतु शैक्षणीक योग्यता

स्नातक अथवा स्नातकोत्तर उपाधि (विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, मानविकी विषयों में) 50 प्रतिशत अंकों के साथ, इसके अतिरिक्त इंजीनियरिंग या तकनीकी (विज्ञान एवं गणित विशेषज्ञता ) में 55 प्रतिशत अंकों के साथ या अन्य समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण आवेदक प्रवेश हेतु पात्र होंगे। अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों के लिए अर्हतादायी अंकों में 05 प्रतिशत की छूट रहेगी। उन्हीं स्नातक एवं स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के प्राप्तांकों को मान्य किया जायेगा, जिनकी पाठ्यक्रम अवधि क्रमश: न्यूनतम तीन वर्ष एवं दो वर्ष की होगी।

Bed प्रवेश प्रक्रिया-

अर्हताकारी परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर निर्मित मेरिट सूची एवं आवेदकों द्वारा व्यक्त वरीयताओं के अनुसार गुणानुक्रम से बी०एड० पाठ्यक्रम में निर्धारित काउंसलिंग प्रक्रिया के माध्यम से प्रवेश होंगे।

एम.एड. पाठ्यक्रम हेतु शैक्षणिक योग्यता

मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों अथवा समकक्ष ग्रेड के साथ वी०एड० / बी०ए०बी०एड० / बी०एससी०बी०एड०/ बी०एल०एड० अथवा डी०एल०एड० के साथ स्नातक उपाधि (दोनों में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक अनिवार्य) उत्तीर्ण आवेदक प्रवेश प्रक्रिया हेतु पात्र होंगे। अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के आवेदकों के लिए अर्हतादायी अंकों में 05 प्रतिशत की छूट रहेगी।

M.ed. प्रवेश प्रक्रिया

अर्हताकारी परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर निर्मित मेरिट सूची एवं आवेदकों द्वारा व्यक्त वरीयताओं के अनुसार गुणानुक्रम से एम०एड० पाठ्यक्रम में निर्धारित काउंसलिंग प्रक्रिया के माध्यम से प्रवेश होंगे।

बी.पी.एड. पाठ्यक्रम शैक्षणिक योग्यता

50 प्रतिशत अंकों के साथ किसी विषय में स्नातक डिग्री और कम से कम एआईयू / आईओए/ एसजीएफआई / भारत सरकार द्वारा यथा मान्यता प्राप्त खेलकूद में अंतर महाविद्यालय / अंतर-क्षेत्रीय / जिला / विद्यालय स्तरीय प्रतियोगिता में भागीदारी की हो। अथवा

45 प्रतिशत अंकों के साथ शारीरिक शिक्षा में स्नातक डिग्री।

अथवा

45 प्रतिशत अंकों के साथ किसी विषय में स्नातक डिग्री तथा एक अनिवार्य विषय / वैकल्पिक विषय के रूप में शारीरिक शिक्षा का अध्ययन किया हो अथवा 45 प्रतिशत अंकों के साथ स्नातक डिग्री और राष्ट्रीय / अंतर- विश्वविद्यालय / राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लिया हो अथवा एआईयू / आईओए/ एसजीएफआई / भारत सरकार द्वारा यथा मान्यता प्राप्त खेलकूद में अंतर महाविद्यालय / अंतर-क्षेत्रीय / जिला / विद्यालय स्तरीय प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय अथवा तृतीय स्थान प्राप्त किया हो।

अथवा

अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भागीदारी के साथ स्नातक डिग्री अथवा संबंधित संघों / एआईयू / आईओए/ एसजीएफआई / भारत सरकार द्वारा यथा मान्यता प्राप्त खेलकूद में राष्ट्रीय / अंतर- विश्वविद्यालय प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय अथवा तृतीय स्थान प्राप्त किया हो।

अथवा

45 प्रतिशत अंक के साथ स्नातक डिग्री और कम से कम तीन वर्ष का शिक्षण अनुभव (प्रतिनियुक्त सेवाकालीन आवेदकों के लिए अर्थात् प्रशिक्षित शारीरिक शिक्षा शिक्षक / कोच) । अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के आवेदकों के लिए अर्हतादायी अंकों में 05 प्रतिशत की छूट रहेगी।

B.p.ed. प्रवेश प्रक्रिया-

अर्हताकारी परीक्षा के प्राप्तांक फिज़िकल फिटनेस टेस्ट तथा स्पोर्ट्स प्रोफेशियेंसी टेस्ट में अर्जित बोनस अंकों के सम्मिलित योग के आधार पर निर्मित समेकित मेरिट सूची एवं आवेदकों द्वारा व्यक्त वरीयताओं के अनुसार गुणानुक्रम से बी.पी.एड. पाठ्यक्रम में निर्धारित ऑनलाइन काउंसलिंग के माध्यम से प्रवेश होंगे।

एम.पी.एड. पाठ्यक्रम हेतु शैक्षणिक योग्यता

(i) कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ शारीरिक शिक्षा में स्नातक (बी.पी.एड.) अथवा समकक्ष अथवा कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ स्वास्थ्य और शारीरिक शिक्षा विज्ञान में स्नातक (बी.एससी.) ।

(ii) अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के आवेदकों के लिए अर्हतादायी अंकों में 05 प्रतिशत की छूट रहेगी।

एम.पी.एड. प्रवेश प्रक्रिया

एम.पी.एड. पाठ्यक्रम में ऑनलाइन प्रवेश अर्हताकारी परीक्षा के प्राप्तांक, एवं स्पोर्ट्स प्रोफिशियेंसी टेस्ट में अर्जित योनस अंकों के सम्मिलित योग के आधार पर निर्मित समेकित मेरिट सूची एवं आवेदकों द्वारा व्यक्त वरीयताओं के अनुसार गुणानुक्रम से ऑनलाइन काउंसलिंग के माध्यम से होंगे।

बी.एड. – एम.एड. (एकीकृत त्रिवर्षीय) पाठ्यक्रम हेतु

(i) प्रवेश हेतु आवेदक को मान्यता प्राप्त संस्था से विज्ञान / सामाजिक विज्ञान / मानविकी विषयों में कम से कम 55 प्रतिशत अंकों अथवा उनके समकक्ष ग्रेड की स्नातकोत्तर डिग्री उत्तीर्ण होना अनिवार्य होगा। वांछनीय : यह वांछनीय है कि उम्मीदवारों की शिक्षा में स्पष्ट दिखने वाली रूचि और अनुभव हो।

(ii) अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों के लिए अर्हतादायी अंकों में 05 प्रतिशत की रहेगी।

(iii)उन्हीं स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के प्राप्तांकों को मान्य किया जायेगा जिनकी पाठ्यक्रम अवधि न्यूनतम दो म की होगी।

प्रवेश प्रक्रिया बी.एड. – एम.एड. (एकीकृत त्रिवर्षीय)

अर्हताकारी परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर निर्मित मेरिट सूची एवं आवेदकों द्वारा व्यक्त वरीयताओं के अनुसार गुणानुक्रम से बी.एड. एम.एड. एकीकृत पाठ्यक्रम में निर्धारित काउंसलिंग प्रक्रिया के माध्यम से प्रवेश होंगे।

बी.ए.बी.एड., पाठ्यक्रम हेतु शैक्षणिक योग्यता

मान्यता प्राप्त संस्थान से उच्चतर माध्यमिक +2 या इसके समकक्ष परीक्षा में कम से कम प्रतिशत अंक के साथ उत्तीर्ण होने वाले अभ्यर्थी प्रवेश के लिए पात्र होंगे।

प्रवेश प्रक्रिया अर्हताकारी परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर निर्मित मेरिट सूची एवं आवेदकों द्वारा व्यक्त वरीयताओं के अनुसार गुणानुक्रम से बी.ए. बी०एड० पाठ्यक्रम में निर्धारित काउंसलिंग प्रक्रिया के माध्यम से प्रवेश होंगे।

अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के आवेदकों के लिए उपरोक्तानुसार निर्धारित अंकों की शैक्षणिक अर्हता में 05 प्रतिशत की छूट प्रदान की जावेगी।

बी.एस.सी. बी.एड., पाठ्यक्रम हेतु शैक्षणिक योग्यता

मान्यता प्राप्त संस्थान से उच्चतर माध्यमिक +2 या इसके समकक्ष परीक्षा में कम से कम 50 प्रतिशत अंक के साथ उत्तीर्ण होने वाले अभ्यर्थी प्रवेश के लिए पात्र होंगे। प्रवेश प्रक्रिया अर्हताकारी परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर निर्मित मेरिट सूची एवं आवेदकों द्वारा व्यक्त वरीयताओं के अनुसार गुणानुक्रम से बी.एस.सी. बी.एड. पाठ्यक्रम में निर्धारित काउंसलिंग प्रक्रिया के से माध्यम से प्रवेश होंगे।

नोट: अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के आवेदकों के लिए उपरोक्तानुसार निर्धारित अंकों की शैक्षणिक अर्हता में 05 प्रतिशत की छूट प्रदान की जावेगी।

बी.एल.एड. पाठ्यक्रम हेतु शैक्षणिक योग्यता

मान्यता प्राप्त संस्थान से हायर सेकेण्ड्री परीक्षा अथवा उसके समकक्ष स्वीकार की जाने वाली कोई अन्य परीक्षा में कुल मिलाकर कम से कम 50 प्रतिशत अंक के साथ उत्तीर्ण होने वाले अभ्यर्थी प्रवेश के लिए पात्र होंगे।

प्रवेश प्रक्रिया अर्हताकारी परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर निर्मित मेरिट सूची एवं आवेदकों द्वारा व्यक्त वरीयताओं के अनुसार गुणानुक्रम से बी.एल.एड. पाठ्यक्रम में निर्धारित काउंसलिंग प्रक्रिया के माध्यम से प्रवेश होंगे।

नोट: अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के आवेदकों के लिए उपरोक्तानुसार निर्धारित अंकों की शैक्षणिक अर्हता में 05 प्रतिशत की छूट प्रदान की जायेगी।

बी.एड (अंशकालीन-तीन वर्षीय) पाठ्यक्रम हेतु शैक्षणिक योग्यता

ऐसे उच्च प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल अध्यापक जो आवेदन की तारीख को कम से कम दो वर्षों तक पूर्णकालिक अध्यापकों के रूप में रहे हैं और जो कार्यक्रम की पूरी अवधि के दौरान सेवा में बने रहेंगे। प्रार्थी को उस स्कूल के अध्यक्ष से जहां वह सेवारत है इस आशय का एक प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा।

ऐसे प्रार्थी जिन्होंने विज्ञान / मानविकी / सामाजिक विज्ञान में स्नातक डिग्री तथा / अथवा स्नातकोत्तर डिग्री अथवा विज्ञान और गणित की पृष्ठभूमि / विशेषज्ञता सहित कम से कम 50 प्रतिशत अंकों सहित इंजीनियरी अथवा प्रौद्योगिकी में स्नातक की डिग्री प्राप्त की है, प्रवेश के लिये पात्र है।

आवेदक को सेवारत संस्थान के प्रमुख / अध्यक्ष से अनापत्ति प्रमाण-पत्र प्राप्त कर अभिलेखों के साथ प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा।

निर्धारित कार्य दिवस :- समस्त पाठ्यक्रम हेतु राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद द्वारा निर्धारित न्यूनतम कार्य दिवस होना आवश्यक है। बी.एड. एम.एड. बी.पी.एड. एम.पी.एड तथा बी.एल.एड. पाठ्यक्रमों के लिये प्रवेश एवं परीक्षा अवधि को छोड़कर यह अवधि न्यूनतम 200 तथा बी.ए.बी.एड. एवं बी.एससी. बी.एड. पाठ्यक्रमों के लिये 250 दिवस और एकीकृत तीन वर्षीय बी.एड. एम.एड. पाठ्यक्रम हेतु 216 कार्य दिवसों की है।

शुल्क : कोरोना (covid-19) संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए प्रवेश शुल्क किश्तों में जमा करने की सुविधा प्रदान करते हुए यह प्रस्तावित है कि ऑनलाइन सीट आवंटन उपरान्त आवेदक को शुल्क विनियामक समिति द्वारा आवंटित महाविद्यालय हेतु निर्धारित / विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित प्रवेश शुल्क की आधी राशि आयुक्त, उच्च शिक्षा, भोपाल के खाते में एम.पी. ऑनलाइन के पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन जमा कराने के पश्चात् ही आवेदक के प्रवेश की प्रारंभिक प्रक्रिया पूरी होगी। शेष आधी राशि प्रवेशित महाविद्यालय द्वारा निर्धारित समयावधि में दो किश्तों में डिजीटल माध्यम से जमा करना अनिवार्य होगा।

म०प्र० शासन, उच्च शिक्षा विभाग के आदेश क्रमांक 1073/240/ सीसी / 14/ अड़तीस दिनांक 30.06.14 की मंशानुरूप अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के आवेदक प्रवेश शुल्क के रूप में रूपये 5,000/- (रु. पांच हजार ) जमा करेंगे एवं निर्धारित शेष शुल्क का भुगतान परीक्षा आवेदन से पूर्व कर सकते हैं, परन्तु छात्रवृत्ति प्राप्ति के संबंध में संबंधित विभाग के नियम / निर्देश लागू होंगे। शेष राशि प्रवेशित महाविद्यालय द्वारा निर्धारित समयावधि में दो किश्तो में डिजीटल माध्यम से जमा करना अनिवार्य होगा।

बी.एड. (अंशकालीन-तीन वर्षीय) पाठ्यक्रम में सेवारत अभ्यर्थियों द्वारा प्रवेश लेने पर यह प्रावधान लागू नहीं होगा सेवारत अभ्यर्थियों को भी आनलाइन सीट आवंटन उपरान्त आवंटित महाविद्यालय हेतु शुल्क विनियामक समिति / विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित प्रवेश शुल्क की आधी राशि आयुक्त उच्च शिक्षा भोपाल के खाते में एम.पी. ऑनलाइन के पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन जमा कराने के पश्चात् ही प्रवेश की प्रारंभिक प्रक्रिया पूरी होगी। शेष आधी राशि प्रवेशित महाविद्यालय द्वारा निर्धारित समयावधि में दो किश्तों में डिजीटल माध्यम से जमा करना अनिवार्य होगा। समयावधि में निर्धारित राशि जमा नहीं करने पर प्रवेश स्वमेव निरस्त हो जाएगा एवं इसका सम्पूर्ण दायित्व संबंधित विद्यार्थी का होगा।

आवेदन हेतु महत्वपूर्ण तिथियां एवं दस्तावेजों का सत्यापन

निर्धारित तिथि एवं प्रक्रिया के अनुसार आवेदकों को प्रवेश प्रक्रिया हेतु ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आवेदन करते समय आवेदकों को चाहिये कि वे अपने प्रमाण पत्रों में दर्ज जानकारी जैसे नाम, पिता अथवा पति का नाम, माता का नाम प्राप्तांक कुल अंक, श्रेणी, संवर्ग, धर्म, जन्मतिथि एवं स्वयं का मोबाइल नंबर, पत्र व्यवहार, मूल निवास का पता हस्ताक्षर, फोटो पहचान पत्र एवं फोटोग्राफ का मिलान आवेदन की प्रविष्टियों से अवश्य कर लें जिससे सत्यापन के समय कोई परेशानी न हो। आवेदकों को स्वयं सुनिश्चित करना होगा कि ऑनलाइन आवेदन मूल दस्तावेजों में उल्लेखित जानकारी के अनुसार ही भरा गया है। ऑनलाइन आवेदन को अंतिम रुप से सबमिट (submit) करने के उपरांत दर्ज प्रविष्टियों को किसी भी दशा में बदला नहीं जायेगा। ऑनलाइन आवेदन में त्रुटि होने अथवा गलत जानकारी दर्ज करने की दशा में पंजीयन / प्रवेश निरस्त होने का संपूर्ण उत्तरदायित्व आवेदक का होगा।

टीप आवेदक की अंकसूची तथा आधार कार्ड में अंकित जन्म तिथि में यदि भिन्नता है, तो मान्यता प्राप्त बोर्ड द्वारा जारी 10 वीं / 11 वीं की अंकसूची में अंकित जन्म तिथि को मान्य कर सत्यापन किया जाए।

ऑनलाईन आवेदन हेतु आवश्यक प्रमाण-पत्र / दस्तावेज अपलोड करने की प्रक्रिया

  • जन्म तिथि प्रमाण-पत्रसंवर्ग प्रमाण-पत्र (निःशक्त / आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग / स्वतंत्रता संग्राम सेनानी / सैनिक र भूतपूर्व सैनिक / प्रतिरक्षा कर्मचारी / विधवा / परित्यक्तता वर्ग आदि), यदि लागू हो तो ।
  • जाति प्रमाण पत्र ( अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / अन्य पिछड़ा वर्ग) यदि लागू हो तो । – ( मार्गदर्शिका की कंडिका कमांक 3 का अवलोकन करें।)
  • न्यूनतम अर्हकारी परीक्षा की अंक सूची ।
  • मूल निवासी प्रमाण-पत्र (मध्यप्रदेश के मूल निवासी / बाह्य राज्य के मूल निवासी), जो भी लागू हो ।
  • आय प्रमाण-पत्र
  • चिकित्सा प्रमाण-पत्र (b.p.ed. / एम.पी.एड. हेतु), जो भी लागू हो।
  • अधिभार प्रमाण पत्र (b.p.ed. / एम.पी.एड. हेतु), जो भी लागू हो ।
  • सेवारत संस्थान के प्रमुख / अध्यक्ष का अनापत्ति प्रमाण पत्र ( b.ed.- अंशकालीन हेतु) ।

पंजीकृत आवेदकों के दस्तावेजों के सत्यापन की ऑनलाईन प्रक्रिया :

  • पंजीकृत आवेदकों को दस्तावेजों के सत्यापन हेतु महाविद्यालय में जाने की आवश्यकता नहीं होगी।
  • आवेदक के दस्तावेजों के सत्यापन की प्रक्रिया शासकीय महाविद्यालयों ( हेल्प सेंटर) के माध्यम से के ऑनलाईन सम्पन्न की जावेगी।
  • सत्र 2022 – 23 से ऑनलाईन प्रवेश प्रक्रिया में सत्यापन की प्रक्रिया हेतु आवेदकों के ऑनलाईन पंजीयन फार्म अपलोड किये गये दस्तावेजों के आधार पर शासकीय महाविद्यालयों ( हेल्प सेंटर) के द्वारा के ऑनलाईन सत्यापन किया जावेगा।
  • आवेदक पंजीयन के समय आवश्यक प्रमाण पत्रों / अधिभार हेतु दस्तावेजों को स्कैन कर अपलोड करेंगे।
  • आवेदक यह सुनिश्चित करेंगे कि अपलोड प्रमाण पत्र / दस्तावेज पूर्णतः स्पष्ट एवं पठनीय हो ।
  • एन.सी.टी.ई. के बी.एड. तथा अन्य किसी भी पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु आवेदकों / हेल्प सेंटर द्वारा की गई त्रुटि का सुधार सत्यापन उपरांत नहीं किया जा सकेगा, ऐसे विद्यार्थी का प्रवेश मान्य नहीं होगा।

निम्न दस्तावेजों में जो भी लागू हो उनका ऑनलाईन अपलोड करना अनिवार्य होगा –

  • जन्म तिथि प्रमाण-पत्र ।
  • अर्हताकारी परीक्षा की अंकसूची– ऐसे आवेदक जो कि कक्षा 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण है तथा इस आधार पर एन.सी.टी.ई. के पाठ्यक्रम की पात्रता रखते हैं, की नेट की अंकसूची को मान्य किया जाकर दस्तावेजों का सत्यापन किया जाये जिससे कि वे प्रवेश प्रक्रिया में शामिल हो सकें, साथ ही सीट आवंटन पत्र के साथ प्रवेश के समय मूल अंक सूची का संबंधित सेंटर पर अवलोकन करना अनिवार्यतः सुनिश्चित किया जाये।
  • अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग (चिकनी- परत छोड़कर) एवं सैनिक, विकलांग, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी तथा विधवा अथवा परित्यक्ता संबंधी संवर्ग में आरक्षण हेतु मान्य प्रमाण-पत्र ।
  • म०प्र० स्थानीय निवासी हेतु स्व-प्रमाणित घोषणा-पत्र ( संलग्न प्रारूप 5 अनुसार)बाह्य राज्य के आवेदकों के लिए सक्षम प्राधिकारी (अनुविभागीय अधिकारी / तहसीलदार ) द्वारा जारी मूल निवास प्रमाण-पत्र
  • नवीनतम आय प्रमाण-पत्र, अन्य पिछड़ा वर्ग (चिकनी-परत छोड़कर) के आवेदकों के लिये ( स्व प्रमाणित घोषणा पत्र संलग्न प्रारूप 6 अनुसार) (क्रमांक एफ 7-28/2009/3 Pi. / एक भोपाल. दिनांक 02.11.2017) के अनुसार
  • खेलकूद संबंधी मान्य उल्लेखित प्रमाण पत्र (जहाँ लागू हो) ।

ऑनलाइन सत्यापन संबंधी निर्देश :

  • आवेदक स्वयं भी अपने लॉगिन आई.डी. से आवेदन फार्म के ऑनलाइन सत्यापन की अद्यतन जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.
  • आवेदक का फार्म ऑनलाइन सत्यापित होते ही इसकी सूचना आवेदक के पंजीकृत मोबाईल नं / ई-मेल पर संदेश के माध्यम से प्रेषित की जावेगी।
  • ऑनलाइन सत्यापन हेतु शासकीय महाविद्यालय (हेल्प सेंटर) आवंटन अनुसार प्रवेश पोर्टल के माध्यम से आवेदकों के पंजीयन फॉर्म के सत्यापन हेतु अपलोड किए गए प्रमाण पत्र / दस्तावेजों को डाउनलोड कर परीक्षण उपरांत संबंधित अधिकारी “सत्यापन पूर्ण के बॉक्स पर क्लिक करेंगे, जिससे आवेदक का ऑनलाइन सत्यापन सुनिश्चित हो सकेगा।

B.Ed.,M.Ed. B.P.ed, M.P.Ed., B.Sc. B.Ed. B.L.Ed. ADMISSION 2022 Rule Book

अगर आप को डिजिटल एजुकेशन पोर्टल द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इसे अधिक से अधिक शिक्षकों के साथ शेयर करने का कष्ट करें|

Follow Us on Google News - Digital Education Portal
Follow Us on Google News – Digital Education Portal

हमारे द्वारा प्रकाशित समस्त प्रकार के रोजगार एवं अन्य खबरें संबंधित विभाग की वेबसाइट से प्राप्त की जाती है। कृपया किसी प्रकार के रोजगार या खबर की सत्यता की जांच के लिए संबंधित विभाग की वेबसाइट विजिट करें | अपना मोबाइल नंबर या अन्य कोई व्यक्तिगत जानकारी किसी को भी शेयर न करे ! किसी भी रोजगार के लिए व्यक्तिगत जानकारी नहीं मांगी जाती हैं ! डिजिटल एजुकेशन पोर्टल किसी भी खबर या रोजगार के लिए जवाबदेह नहीं होगा

Team Digital Education Portal

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please Close Ad Blocker

हमारी साइट पर विज्ञापन दिखाने की अनुमति दें लगता है कि आप विज्ञापन रोकने वाला सॉफ़्टवेयर इस्तेमाल कर रहे हैं. कृपया इसे बंद करें|